Wednesday , December 13 2017

चलती ट्रेन में गैंगरेप फिर बाहर फेंका

समस्तीपुर, 16 अप्रैल: समस्तीपुर के दलसिंग सराय स्टेशन के पास चलती ट्रेन में चार दरिंदों ने नाबालिग लड़की से गैंगरेप किया और इतना ही नहीं दरिंदो ने रेप के बाद मुतास्सिरा को चलती ट्रेन से बाहर फेंक दिया।

समस्तीपुर, 16 अप्रैल: समस्तीपुर के दलसिंग सराय स्टेशन के पास चलती ट्रेन में चार दरिंदों ने नाबालिग लड़की से गैंगरेप किया और इतना ही नहीं दरिंदो ने रेप के बाद मुतास्सिरा को चलती ट्रेन से बाहर फेंक दिया।

मुतास्सिरा की हालत नाज़ुक है डॉक्टर के मुताबिक उसकी कई जगह की हड्डी टूट गई हैं और ब्रेन इंजरी भी है।

चलती ट्रेन से फेंक देने के बाद मुतास्सिरा सुबह पटरी के किनारे बेहोशी की हालत में मिली। मुतास्सिरा को दलसिंग सराय रेल अफसर ने देखा और पुलिस को इसकी इत्तेला दी।

मुतास्सिरा को पहले दलसिंग सराय अस्पताल में भर्ती कराया गया फिर समस्तीपुर सदर अस्पताल में लाया गया। होश आने पर उसने सारी बातें पुलिस को बताई।

पुलिस ने मुतास्सिरा के बयान पर समस्तीपुर रेल थाने में मामला दर्ज कर लिया है और मुल्ज़िमो को ढंढूने की कोशिश की जा रही है।

पीड़िता गोपालगंज के महमदपुर की रहने वाली है और उसका इश्क मोतिहारी के रुपेश के साथ था। मुतास्सिरा और रुपेश दोनों घर से भाग गए थे और मोतिहारी में ही किराये के मकान में रह रहे थे।

अपने मंसूबे के मुताबिक दोनों कोलकाता जाने के लिए एक्सप्रेस ट्रेन से निकले। वे दोनों नजीर गंज स्टेशन तक साथ थे फिर दोनों में कुछ कहा सुनी हुई और रुपेश बगल की बोगी में चला गया।

मुतास्सिरा के मुताबिक काफी अंधेरा हो गया था और तभी जिस सीट पर वह बैठी थी वहीं बैठे चार लोग उससे छेड़छाड़ करने लगे। मुखालिफत करने पर उन्होंने लड़की के मुंह को बांध कर रेप किया।

लड़की अस्पताल में लावारिस हालत में लायी गयी थी इसलिए उसकी देखरेख का जिम्मा जिला बाल बहबूद कमेटी (कल्याण समिति) को सौंपा गया है।

TOPPOPULARRECENT