Wednesday , August 15 2018

चलती ट्रेन में नाबालिग का यौन उत्पीड़न, बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ चुका हैं आरोपी

एक तरफ जहां बच्चियों के खिलाफ यौन अत्याचार रोकने के मकसद के मोदी सरकार ने कानून में संशोधन कर कड़े प्रावधान जोड़ने का फैसला किया है. वहीं, दूसरी तरफ भारतीय जनता पार्टी के टिकट से चुनाव लड़ चुके एक नेता पर नाबालिग बच्ची के यौन उत्पीड़न का आरोप लगा है.

मामला तमिलनाडु का है. जहां 10 साल की एक बच्ची अपने परिवार के साथ ट्रेन में तिरुवनंतपुरम से चेन्नई जा रही थी. आरोप है कि रात के वक्त किसी स्टेशन से प्रेम अनंत नाम का शख्स ट्रेन में आया. आरोप है कि इस दौरान प्रेम अनंत ने आसपास लोगों को सोता देख, वहां मौजूद बच्ची को गलत तरीके से छूना शुरू कर दिया.

इस दौरान बच्ची के मां-बाप और परिवार के दूसरे सदस्य भी सो रहे थे. आरोप है कि प्रेम अनंत ने बच्ची को आपत्तिजनक तरीके से कई जगह छुआ. ऐसा होता देख, बच्ची चीख पड़ी, जिसके बाद सब लोग उठ गए और पुलिस को सूचना दी गई.

पुलिस ने पीड़ित परिवार की शिकायत पर पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया. जिसके बाद आरोपी को कोर्ट में पेश किया गया. कोर्ट ने आरोपी को जेल भेज दिया है.

आरोपी प्रेम अनंत पेशे से वकील हैं. उनके पास से मद्रास हाई कोर्ट एडवोकेट एसोसिएशन का कार्ड भी मिला है. साथ ही वह 2006 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी के टिकट पर चुनाव भी लड़ चुके हैं. हालांकि, फिलहाल प्रेम अनंत के पास बीजेपी में कोई पद नहीं है.

पीड़ित परिवार ने प्रेम अनंत पर धमकी देने का भी आरोप लगाया है. परिवार के मुताबिक, घटना के बाद प्रेम अनंत ने बीजेपी और आरएसएस नेताओं से संपर्क होने की धमकी देते हुए उन पर दबाव बनाने की भी कोशिश की. हालांकि, बाद में पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

TOPPOPULARRECENT