चलो हाई कोर्ट कैंपेन : जेएनयू स्कॉलर नजीब की मां हिरासत में

चलो हाई कोर्ट कैंपेन :  जेएनयू स्कॉलर नजीब की मां हिरासत में
Click for full image

जेएनयू छात्रों को कहना है कि पुलिसवालों ने हमारे साथ बदतमीजी की। जेएमयूएसयू उपाध्यक्ष सिमोन जोया खान ने कहा कि हम दिल्ली हाईकोर्ट के बाहर थे कि पुलिस आई और हमारे साथ बदसलूकी करने लगी।

गौरतलब है कि एक साल हो गए पर जेएनयू छात्र नजीब की गुमशुदगी में सीबीआई की जांच से कोर्ट भी खुश नहीं है और जांच में तेजी लाने के लिए ही प्रदर्शन हो रहे हैं।

इससे पहले भी जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के लापता छात्र नजीब अहमद को खोजने के लिए दिल्ली में विरोध प्रदर्शन कर रहे कई छात्रों को दिल्ली पुलिस ने जंतर-मंतर से हिरासत में लिया था और फिर कुछ घंटे बाद रिहा कर दिया था।

हिरासत में लिए गए लोग इडिया गेट पर एक मार्च के लिए एकत्र हो रहे थे. इनके साथ नजीब की मां फ़ातिमा नफ़ीस भी थीं. उन्हें भी हिरासत में लिया गया था और फिर छोड़ दिया गया था।

वहीं इस घटना पर बात करते हुए फातिमा नफीस ने कहा कि मैंने कोर्ट के बाहर कोई प्रदर्शन नहीं किया था क्योंकि मैं जानती हूं कि यह कानून के खिलाफ है, लेकिन फिर भी पुलिसवालों ने मेरा अपमान किया और मुझे उठाकर पुलिस थाने ले गए। इस घटना में मुझे हाथ में चोट भी आई है। फातिमा ने कहा कि मैं उस समय वहां मौजूद भी नहीं थी जब पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लेना शुरु किया था। पुलिसवालों ने उन छात्रों पर हमला किया जो कि मेरी मदद करने के लिए आए थे। पुलिस ने हिरासत में लिए छात्रों को अभी तक बरी नहीं किया है। पुलिस कार्यवाही में एक छात्र को चोट आई है जिसे आरएमएल अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

Top Stories