Sunday , July 22 2018

चारमीनार हमारी पहचान है मुस्तहकम करने हर मुम्किन इक़दाम किए जाऐंगे

हैदराबाद 03 अगसट:डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना मुहम्मद महमूद अली ने चारमीनार से मुताल्लिक़ अपने मुतनाज़ा रिमार्कस पर वज़ाहत करते हुए कहा कि उन्होंने सिर्फ़ उमूमी अंदाज़ में ये तज़किरा किया था।

वाज़िह रहे कि महमूद अली ने दवाख़ाना उस्मानिया को मुनहदिम करदेने हुकूमत के फ़ैसले की मुदाफ़अत करते हुए कहा था कि अगर चारमीनार की इमारत भी ख़स्ता होजाए तो उसे भी मुनहदिम किया जा सकता है।

अपने रिमार्कस की वज़ाहत करते हुए उन्होंने कहा कि उन्होंने दवाख़ाना उस्मानिया की मुंतक़ली के हुकूमत के फ़ैसले पर दलील देने के लिए सिर्फ़ उमूमी अंदाज़ में चारमीनार का तज़किरा किया था।

हुकूमत का इद्दिआ हैके दवाख़ाना उस्मानिया ख़स्ता हालत में है। चारमीनार 16 वीं सदी ईसवी की एक यादगार तामीर है जो एक संग-ए-मील और सयाहती मुक़ाम है।

महमूद अली ने कहा कि चारमीनार हमारी पहचान है। हम उस को मुस्तहकम करने हर मुम्किन इक़दामात करेंगे। उन्होंने चारमीनार के ताल्लुक़ से सिर्फ़ उमूमी हवाला दिया था। चारमीनार के इस्तेहकाम के मसले पर शायद 1000 साल बाद सूचना पड़े। ये वाज़िह करते हुए कि बेशतर ग़रीब अवाम दवाख़ाना उस्मानिया में ईलाज के लिए आते हैं महमूद अली ने कहा कि हुकूमत चाहती हैके अवाम के मुफ़ाद में काम करे और उन्हें बेहतर सहूलयात फ़राहम करे।

TOPPOPULARRECENT