Tuesday , December 12 2017

चारा घोटाले में दो साबिक़ एमएलए को सज़ाए कैद

रांची, 4 जून: (पी टी आई) दो साबिक़ एमएलए आर के राना और ध्रुव भगत को चारा घोटाले में मुलव्वस होने पर सी बी आई की एक अदालत ने पाँच साल की सज़ा ए कैद सुनाई है । दो साबिक़ ओहदेदार ओम प्रकाश दीवाकर और अजीत कुमार सिन्हा जिन का ताल्लुक़ Animal Husbandry depar

रांची, 4 जून: (पी टी आई) दो साबिक़ एमएलए आर के राना और ध्रुव भगत को चारा घोटाले में मुलव्वस होने पर सी बी आई की एक अदालत ने पाँच साल की सज़ा ए कैद सुनाई है । दो साबिक़ ओहदेदार ओम प्रकाश दीवाकर और अजीत कुमार सिन्हा जिन का ताल्लुक़ Animal Husbandry department से है, को भी छः साल की सज़ाए कैद सुनाई गई है ।

इलावा अज़ीं ट्रेजरी महकमा (treasury department) के छः दीगर ओहदेदार और चारा सरबराह करने वाले को सी बी आई की अदालत ने सज़ा ए कैद सुनाई है । ख़ुसूसी सी बी आई के जज सीता राम प्रसाद की अदालत ने इन तमाम को 31 मई को कुसूरवार ठहराते हुए उन की सज़ाएं तजवीज़ की थीं जबकि राना , भगत , दीवाकर और सिन्हा पर दो लाख रुपय फी कस का जुर्माना भी आइद किया गया है ।

जुर्माना अदा ना करने की सूरतिया उन्हें मज़ीद तीन माह जेल में गुज़ारने होंगे । याद रहे कि भगत गैर मुनक़सिम रियासत बिहार के बी जे पी एमएल ए और उस वक़्त के पब्लिक अकाउंट्स कमेटी के सदर नशीन थे । उस वक़्त आर जे डी बरसर‍ ए‍ इक्तेदार थी जबकि राना आर जे डी के एमएल ए थे और बादअज़ां बिहार से वो आर जे डी के एम पी भी मुंतख़ब हुए थे ।

यहां इस बात का तज़किरा बेजा ना होगा कि चारा घोटाले ने उस वक़्त पूरे हिंदूस्तान में तहलका मचा दिया था जहां लालू प्रसाद यादव पर भी तन्क़ीदें हुई थीं।

TOPPOPULARRECENT