Monday , December 18 2017

चार्टेर्ड एकाउंटेंसी इदारा उम्मूल क़ूरा के नताइज क़ौमी औसत से बदऱे जहा बेहतर

मिली तरक़्क़ी के जज़बे से सरशार पुने के चार्टेड एकाउंटे‍टस, प्रोफेसरों और दीगर आला अफ्सरान पर मुश्तमिल एक ग्रुप की जानिब से गुज़शता बरस क़ायम कर्दा रज़ाकार इदारे उम्मूल क़ुरा को ख़ातिरख्वाह कामयाबी मिलने लगी है। हाल ही में यहां के तर

मिली तरक़्क़ी के जज़बे से सरशार पुने के चार्टेड एकाउंटे‍टस, प्रोफेसरों और दीगर आला अफ्सरान पर मुश्तमिल एक ग्रुप की जानिब से गुज़शता बरस क़ायम कर्दा रज़ाकार इदारे उम्मूल क़ुरा को ख़ातिरख्वाह कामयाबी मिलने लगी है। हाल ही में यहां के तर्बीयत याफ्ता 11 तलबा ने चार्टर्ड एकाउँटेंटस के इंटरमीडीएट इम्तेहान यानी आई पी सी सी में कामयाबी हासिल की है।

कामयाब तलबा का तनासुब 52 फ़ीसद है जबकि इस इम्तेहान में कामयाब होने वाले उम्मीदवारों का क़ौमी औसत 36 फ़ीसद है। हिंदूस्तान के सब से मुश्किल कहे जाने वाले कोर्स में उम्मूल क़ुरा के कामयाब तलबा में साबिर, आसिफ़ और शहबाज़ (कलकत्ता), ताहिर (भागलपोर), साबिर (पौने), रशीद (रांची), कामरान (मोनगीर) , जावेद (ग़ाज़ी पर), अब्बू अली (पटना), ज़ाकिर (मालेगाँव) और निज़ाम (मुंबई) शामिल हैं। इस से क़ब्ल सी ए के इब्तीदाई इम्तेहान सी पी टी में 6 तलबा दानयाल (आसनसोल), आकिफ (धनबाद), शहबाज़ (पटना), फ़ख़र उल-हसन (मुज़फ़्फ़र पुर), आफ़ाक़ (कलकत्ता) और इर्फ़ान (परभणी) ने कामयाबी हासिल की थी।

TOPPOPULARRECENT