Monday , February 26 2018

चालीस फ़ीसद शामियों को इमदाद की ज़रूरत – अक़वामे मुत्तहदा

अक़वामे मुत्तहदा के अंदाज़ों के मुताबिक़ शाम में ज़ाइद अज़ ढाई साल से जारी ख़ानाजंगी के नतीजे में इस वक़्त क़रीब 9.3 मिलयन अफ़राद या मुल्की आबादी के तक़रीबन 40 फ़ीसद हिस्से को इंसानी बुनियादों पर इमदाद की ज़रूरत है। इन में से 6.5 मिलयन बाशिंदे

अक़वामे मुत्तहदा के अंदाज़ों के मुताबिक़ शाम में ज़ाइद अज़ ढाई साल से जारी ख़ानाजंगी के नतीजे में इस वक़्त क़रीब 9.3 मिलयन अफ़राद या मुल्की आबादी के तक़रीबन 40 फ़ीसद हिस्से को इंसानी बुनियादों पर इमदाद की ज़रूरत है। इन में से 6.5 मिलयन बाशिंदे वतन में ही मुहाजिर बन चुके हैं। शाम की मजमूई आबादी लग भग 23 मिलयन है।

TOPPOPULARRECENT