Wednesday , May 23 2018

चित्तूर गढ़ किला बंद, महिलाओं ने तलवारें लहराई

चित्तूर गढ़: राजिस्थान के चित्तूर गढ़ में संजयलीला भंसाली की फ़िल्म “पद्मावती” की विरोध में आज चित्तूर गढ़ किला बंद कर दिया गया और ‘सर्वसमाज के लोग धरने पर बैठ गए। फ़िल्म पद्मावती की रीलीज़ की विरोध में सर्वसमाज ने वार्निंग दी थी कि16 नवंबर तक फ़िल्म पर पाबंदी नहीं लगी तो 17 को किला बंदी करके पर्यटकों का दाख़िला रोक दिया जाएगा। इस आंदोलन से जुड़े लोग गुरुवार पूरे दिन सक्रिय रहे । पुलिस वांतज़ामेह ने भी सेक्योरिटी के सख़्त व्यवस्था किए हैं।

सर्वसमाज की आंदोलन से अध्यक्ष जोहर अस्मरती संस्थान के अध्यक्ष उम्मीद सिंह धूली के मुताबिक़ आज किला पर्यटकों के लिए बंद रहेगा लेकिन किले में रहने वाले लोगों को आने जाने की इजाज़त है। रेलवे ने शाही ट्रेन के पर्यटकों को सीधे उदय पूर ले जाने का फ़ैसला किया है। राजपूत समाज की ख़वातीन ने दुर्ग पर अपना ग़ुस्सा दिखाया और कुछ नौजवानों तलवारें भी लहराएँ महिलाओं ने किले के नीचे बने जोहर भवन की वेदियों में आग जलाई और तलवारें लेकर क़िले पर पहुंच गईं और प्रदर्शन किया। ये पहला मौक़ा है कि चित्तूर गढ़ दुर्ग आंदोलन की वजह से बंद किया गया।

TOPPOPULARRECENT