Monday , December 18 2017

चिदंबरम ने मआशी हालात को इंतेहाई अबतर बनादिया

बी जे पी लीडर सुब्रमण्यम स्वामी ने मर्कज़ी वज़ीर फाइनेंस पी चिदंबरम पर मुल्क की मईशत को मुकम्मल तबाह-ओ-ताराज करने का इल्ज़ाम आइद किया। उन्होंने कहा कि आइन्दा नरेंद्र मोदी ज़ेर-ए-क़ियादत हुकूमत को बड़े पैमाने पर इस्लाहात करने होंगे

बी जे पी लीडर सुब्रमण्यम स्वामी ने मर्कज़ी वज़ीर फाइनेंस पी चिदंबरम पर मुल्क की मईशत को मुकम्मल तबाह-ओ-ताराज करने का इल्ज़ाम आइद किया। उन्होंने कहा कि आइन्दा नरेंद्र मोदी ज़ेर-ए-क़ियादत हुकूमत को बड़े पैमाने पर इस्लाहात करने होंगे ताकि यू पी ए हुकूमत में जो नुक़्सानात हुए उनकी पा बजाई होसके।

उन्होंने ज़राए इबलाग़ के नुमाइंदों से बातचीत करते हुए कहा कि उस वक़्त हम इंतेहाई नाज़ुक हालात से गुज़र रहे हैं और नई हुकूमत को बड़े पैमाने पर मआशी इस्लाहात करने होगा ताकि यू पी ए दौर में हिन्दुस्तानी मईशत को जो नुक़्सान हुआ है उसे दुरुस्त किया जा सके । उन्होंने यू पी ए हुकूमत की मआशी तरक़्क़ी की शरह 4.8फ़ीसद का हवाला देते हुए कहा कि एन डी ए हुकूमत में ये शरह 8.4फ़ीसद थी।

उन्होंने कहा कि माली ख़सारा अब तक की बुलंद तरीन सतह पर पहुंच गए है जो एक बड़े बोहरान का सबब बन सकता है । हुकूमत अब इस मरहले पर पहुंच गई कि पब्लिक सेक्टर बैंक से हासिल होने वाले एक रुपए पर उसे 96पैसे बतौर सूद अदा करने होंगे। उन्होंने कहा कि हम उस वक़्त इंतेहाई नाज़ुक मआशी हालात से गुज़र रहे हैं और चिदंबरम ने बजट को इंतेहाई मुश्किल और ख़राब करके रख दिया है ।

सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि आइन्दा हुकूमत मोदी की ज़ेर-ए-क़ियादत होगी और वो हिन्दुस्तानी मईशत के दीवालीया पन की सूरत-ए-हाल का सामना करेगी। उसे अंदरून छः माह इन ख़राबियों को दूर करना होगा। उन्होंने बताया कि बी जे पी के इंतेख़ाबी मंशूर में बाज़ मआशी इस्लाहात का ज़िक्र किया जाएगा।

TOPPOPULARRECENT