Sunday , December 17 2017

चिदम़्बरम की बरतर्फी और हुकूमत कर्नाटक की बर्ख़ास्तगी का मुतालिबा

नई दिल्ली १७ दिसम्बर (पी टी आई यू एन आई) वज़ीर-ए-दाख़िला पी चिदम़्बरम की बरतर्फी और हुकूमत कर्नाटक को मराठी बोलने वाले अफ़राद पर मुबय्यना मज़ालिम की पादाश में बर्ख़ास्त करने का मुतालिबा करते हुए अपोज़ीशन ने आज पार्लीमैंट की कार्रवा

नई दिल्ली १७ दिसम्बर (पी टी आई यू एन आई) वज़ीर-ए-दाख़िला पी चिदम़्बरम की बरतर्फी और हुकूमत कर्नाटक को मराठी बोलने वाले अफ़राद पर मुबय्यना मज़ालिम की पादाश में बर्ख़ास्त करने का मुतालिबा करते हुए अपोज़ीशन ने आज पार्लीमैंट की कार्रवाई को अमलन मफ़लूज कर दिया।

पार्लीमैंट में सिर्फ रेलवे के लिए ज़िमनी मुतालिबात ज़र बराए 2011-की मंज़ूरी का काम हुआ। नदाई वोट से अरकान ने मुतालिबात ज़र को मंज़ूर किया जबकि अपोज़ीशन अरकान पुरशोर नारा बाज़ी कर रहे थे। ऐवान में शोर-ओ-गुल के बाइस वज़ीर रेलवे दिनेश त्रिवेदी बेहस का जवाब ना दे सके।

उन्हों ने सिर्फ अपनी तक़रीर को ऐवान में पेश करदिया। गड़बड़ उस वक़्त शुरू हुई जब ऐवान की कार्रवाई का सुबह आग़ाज़ हुआ। अन्ना डी एम के और बाएं बाज़ू अरकान ऐवान के वस्त में पहूंच कर एक होटल मालिक की हिमायत करने पर चिदम़्बरम को बरतरफ़ करने का मुतालिबा किया।

बी जे पी अरकान भी नारे लगाते हुए उठ खड़े हुई। एन् डी ए की हलीफ़ पार्टी शिवसेना के अरकान ने कर्नाटक में बी जे पी की हुकूमत को मराठी बोलने वाले अवाम पर मुबय्यना मज़ालिम के ख़िलाफ़ बरतरफ़ करने का मुतालिबा किया। शोर शराबा की वजह से ऐवान की कार्रवाई मुल्तवी कर दी गई।

TOPPOPULARRECENT