Monday , November 20 2017
Home / International / चीनी मुसलमान का साइकल से हज के लिए हिजाज़े मुक़द्दस आगमन, अरबियों ने किया स्वागत

चीनी मुसलमान का साइकल से हज के लिए हिजाज़े मुक़द्दस आगमन, अरबियों ने किया स्वागत

रियाद: वैसे तो हर साल हजारों मुसलमान दुनिया के कोने कोने से हज अदा करने के लिए हिजाज़ मुक़द्दस पहुंचते हैं मगर कुछ हज यात्री अपनी यात्रा की विशिष्टता की वजह से वैश्विक सुर्खियों में आजाते हैं। ऐसे ही एक मुसलमान का संबंध चीन से है जो साइकिल से हजारों किलोमीटर का सफर तय करके हज बैतुल्लाह के लिए सऊदी अरब पहुंच गए हैं।

अल अरबिया डॉट नेट के अनुसार सऊदी अरब मीडिया ने चीन के इस अद्वितीय आज़िमें हज मोहम्मद मा पाउचीन के हज यात्रा को असाधारण कवरेज दी है। पाउचीन ने तीन महीने पहले हज यात्रा शुरू चीन के क्षेत्र शेन जिंग से किया। मौसमी मुश्किलात और यात्रा की हर मुश्किलों को सहन करते हुए वह अंत में अपने गंतव्य पर पहुंच गया है।

मापाउचीन ने साइकिल पर अपने देश से यात्रा शुरू की। जहां से वह पाकिस्तान में प्रवेश किया। इसके बाद अफगानिस्तान, फिर ईरान और इराक से होते हुए सऊदी अरब पहुंचे हैं। मापाउचीन का कहना है कि चीन पाकिस्तान संक्रमण के बाद उसने सऊदी अरब का वीजा हासिल किया क्योंकि उनके पास हज का वीजा नहीं था। हज का वीजा प्राप्त करने के बाद उसने साइकिल यात्रा शुरू, बहरीन में शाह फहद ब्रिज पार करके वह दम्माम पहुंचे जहां से रियाज, वहाँ ताइफ़ और फिर मक्का तक कुल 8 हजार 150 किलोमीटर का हज का सफर साइकिल पर् तय करके एक नया रिकॉर्ड बनाया है।

ताइफ़ पहुंचने पर चीनी आज़िमे हज के स्थानीय नागरिकों ने हार्दिक स्वागत किया। चीनी मुसलमान का कहना है कि साइकिल पर उसका लंबी यात्रा कई संदर्भों में यादगार रहेगा। उसने रास्ते में आते हुए प्राकृतिक सौंदर्य के नज़ारे देखे मगर सऊदी अरब के ऐतिहासिक स्थलों की ज़ियारत से प्राप्त होने वाला आध्यात्मिक शांति हमेशा याद रह जाएगा।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

गौरतलब है कि चीन में मुस्लिम आबादी की संख्या 26 लाख से अधिक है, लेकिन उनमें से केवल कुछ हजार मुसलमानों को हर साल हज अदा करने के लिए हिजाज़ मुक़द्दस की यात्रा की अनुमति दी जाती है।

TOPPOPULARRECENT