Tuesday , December 12 2017

चीन और हिंदूस्तान अमरीका के लिए उभरते ख़तरात

वाशिंगटन 19 नवंबर (पी टी आई) अमरीका के नए वज़ीर-ए-दिफ़ाअ लीवन पेनेटा से आज भयानक ज़बानी लग़्ज़िश होगई और उन्हों ने अपनी तक़रीर के दौरान हिंदूस्तान और चीन को उभरते हुए ख़तरात क़रार दे दिया। इन के दफ़्तर ने फ़ौरी तौर पर मुदाख़िलत करते हुए रिमार

वाशिंगटन 19 नवंबर (पी टी आई) अमरीका के नए वज़ीर-ए-दिफ़ाअ लीवन पेनेटा से आज भयानक ज़बानी लग़्ज़िश होगई और उन्हों ने अपनी तक़रीर के दौरान हिंदूस्तान और चीन को उभरते हुए ख़तरात क़रार दे दिया। इन के दफ़्तर ने फ़ौरी तौर पर मुदाख़िलत करते हुए रिमार्कस पर वज़ाहत की और कहा कि नई दिल्ली के साथ वाशिंगटन अपने क़रीबी ताल्लुक़ात को इंतिहाई क़दर-ओ-मंजिलत की नज़र से देखता है।

मिस्टर पेनटा कनॆकटक् बंदरगाह के क़रीब अपने ख़िताब के दौरान तैय्यार शूदा मतन से हट कर इज़हार-ए-ख़्याल करते हुए ये फ़ाश ग़लती की और कहा कि हमें हिंद, चीन और दीगर उभरती हुई ताक़तों से संगीन ख़तरात का सामना है, जिन से हमें हमावक़त बाख़बर और चौकस रहना चाआई। इस के साथ ये भी यक़ीनी बनाना होगा कि बहर-ए-अलकाहिल में हमारी ख़ातिरख़वाह हिफ़ाज़ती फोर्सेस मुतय्यन रहें और उन्हें भी यक़ीन होजाए कि हम कहीं जाने वाले नहीं है।

अमरीकी वज़ीर-ए-दिफ़ाअ के ये तबसरे एक ऐसे वक़्त उलझन और अजीब सूरत-ए-हाल का सबब बन गए जबकि अमरीकी सदर बारक ओबामा और हिंदूस्तानी वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह ने इंडोनेशिया-ए-में मुलाक़ात की और दोनों क़ाइदीन ने ना सिर्फ बाहमी बल्कि हमा रुख़ी सतह पर ताल्लुक़ात को मज़ीद मज़बूत-ओ-मुस्तहकम बनाने से इत्तिफ़ाक़ किया है।

पॆनटागन के सरबराह , पेनेटा इस बंदरगाह पर गोदी मज़दूरों के इजतिमा से ख़िताब कररहे थे जहां न्यूक्लीयर हमला के लिए इस्तिमाल किए जाने वाले आबदोज़ तैय्यार किए जाते हैं। उन्हों ने कहा कि अमरीका को ईरान, शुमाली कोरिया और साइबर हमलों के संगीन ख़तरात दरपेश हैं, लेकिन मिस्टर पेनेटा ने जो सी आई ए के साबिक़ सरबराह भी हैं, हाल ही में ऐलानीया तौर पर कहा था कि वो हिंदूस्तान के दौरा के मुतमन्नी हैं, लेकिन आज उन्हों ने अपनी तक़रीर के तैय्यार शूदा मतन से हट कर इज़हार-ए-ख़्याल करते हुए ज़बानी लग़्ज़िश के सबब हिंदूस्तान को भी चीन के साथ इन ममालिक की फ़हरिस्त में शामिल करदिया जिन से अमरीका को सलामती के ख़तरात लाहक़ हैं।

TOPPOPULARRECENT