Friday , February 23 2018

चीन में ड्रोन को मार गिराने वाले लेज़र सिस्टम की तैयारी

आज कल दुनिया भर में ड्रोन्स की अहमियत बढ़ती जा रही है। उसे जहां दुश्मन के ठिकानों क पता लगाकर निशाना बनाने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है वहीं ज़रई शोबा और कारोबारी मक़ासिद के लिए भी इस्तेमाल में लाया जा रहा है।

आज कल दुनिया भर में ड्रोन्स की अहमियत बढ़ती जा रही है। उसे जहां दुश्मन के ठिकानों क पता लगाकर निशाना बनाने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है वहीं ज़रई शोबा और कारोबारी मक़ासिद के लिए भी इस्तेमाल में लाया जा रहा है।

इस के इलावा जल्से जुलूसों रैलीयों और मुज़ाहिरों की निगरानी और लड़ाई झगड़ों, फ़िर्कावाराना फ़सादाद और नस्ली तसादुम से मुतास्सिरा मुक़ामात की निगरानी के लिए भी ड्रोन का इस्तेमाल आम हो गया है। मीडिया के इदारे अहम तक़ारीब की रिपोर्टिंग के लिए ड्रोन इस्तेमाल करने लगे हैं।

इस के बावजूद ड्रोन्स अपनी जासूसी ख़ुसूसियात और हलाकत ख़ेज़ी के लिए बहुत ज़्यादा बदनाम हैं। बहरहाल ये क़ानूने फ़ितरत है कि जो चीज़ तबाही के लिए तैयार होती है उस की तबाही का भी सामान किया जाना है।

चीनी दिफ़ाई साईंसदानों और इंजीनीयरों की कोशिश के नतीजा में चीन ने एक ऐसा लेज़र असलहा निज़ाम तैयार किया है जो कम बुलंदी पर परवाज़ करने वाले हल्के ड्रोन्स को मार गिरा सकता है। ज़िन्नावा ने चाइना अकेडमी ऑफ़ इंजीनिरिंग फिज़िक्स (CAEP) के हवाला से लेज़र असलहा निज़ाम के बारे में मालूमात मंज़रे आम पर लाई।

TOPPOPULARRECENT