Tuesday , November 21 2017
Home / World / चीन में मुसलमानों की आबादी रोकने के लिए नया नियम लागू, दो से अधिक बच्चे पैदा करने पर लगी रोक

चीन में मुसलमानों की आबादी रोकने के लिए नया नियम लागू, दो से अधिक बच्चे पैदा करने पर लगी रोक

बीजिंग। चीन में बढ़ती आबादी को लेकर सालों पहले सरकार ने परिवार नियोजन नीति लागू कर दी थी। लेकिन उस दौरान वहां के मुस्लिम समुदाय को छोड़ दिया गया था।

अब सरकार चीनी मुस्लिमों को भी परिवार नियोजन के दायरे में लाने का फैसला कर लिया है। नई परिवार नियोजन नीति अशांत शिनजियांग प्रांत में भी लागू कर दी गई है।

इस प्रांत में उइगर मुस्लिमों की बड़ी आबादी रहती है। चीन ने चार दशक पुरानी एक बच्चे की नीति में पिछले साल ढील देते हुए लोगों को दो बच्चों को जन्म देने की इजाजत दे दी थी। एक बच्चे की यह नीति सिर्फ बहुसंख्यक हान समुदाय पर ही लागू थी।

चीन की 138 करोड़ आबादी में इस समुदाय की हिस्सेदारी 90 फीसद से अधिक है। इस नीति के दायरे से मुस्लिमों और तिब्बतियों समेत सभी अल्पसंख्यक समुदायों को बाहर रखा गया था।

सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स के अनुसार, शिनजियांग में 28 जुलाई से नई नीति लागू कर दी गई है। इसके दायरे में अब मुस्लिमों और अन्य अल्पसंख्यकों को भी लाया गया है। चीनी विश्लेषकों का कहना है कि समान परिवार नियोजन नीति सभी जातीय समूहों के लिए है। इस कदम से जातीय समानता को बढ़ावा मिलेगा। शहर में दो, गांव में तीन अखबार के अनुसार, शिनजियांग में अल्पसंख्यक समुदाय के लोग अब परिवार नियोजन नीति से मिली छूट का फायदा नहीं उठा सकते हैं।

28 जुलाई से प्रांत के सभी शहरी जोड़ों को दो बच्चे पैदा करने की अनुमति दी गई है। जबकि ग्रामीण जोड़े तीन बच्चों के माता-पिता बन सकते हैं। वर्ष 2016 के आंकड़ों के अनुसार शिनजियांग की आबादी 2.39 करोड़ है। प्रांतीय सांख्यिकी ब्यूरो ने 2010 की जनसंख्या के आधार पर बताया कि प्रांत में 87 लाख हान समुदाय के लोग हैं। उनकी आबादी साल 2000 की तुलना में 16.77 फीसद बढ़ी।

TOPPOPULARRECENT