चीफ़ मिनिस्टर और शर्मीला के माबैन(दरमियान) लफ़्ज़ी जंग

चीफ़ मिनिस्टर और शर्मीला के माबैन(दरमियान) लफ़्ज़ी जंग

चीफ़ मिनिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी और जगन की बहन शर्मीला के दरमयान इंतिख़ाबी मुहिम के दौरान लफ़्ज़ी जंग शुरू हो चुकी है। सदर वाई ऐस आर कांग्रेस जगन मोहन रेड्डी के जेल जाने के बाद उन की वालिदा मिसिज़ विजया अम्मां और बहन शर्मीला वाई ऐस आर कांग्रेस की इंतिख़ाबी मुहिम चला रही हैं,

दोनों माँ बेटी डाक्टर राज शेखर रेड्डी की मौत पर शक का इज़हार कर रही हैं, ताहम (फिर भी) शर्मीला और चीफ़ मिनिस्टर के दरमयान इस मसला पर ठन गई है। मिसिज़ शर्मीला इंतिख़ाबी मुहिम से ख़िताब करते हुए अपने भाई जगन को बेक़सूर क़रार दे रही हैं और डाक्टर राज शेखर रेड्डी के साथ लम्हा आख़िर में प्रोग्राम मुल्तवी करने के बारे में चीफ़ मिनिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी से वजह दरयाफ़त कर रही हैं।

उन्हों ने सवाल किया कि क्या चीफ़ मिनिस्टर को हैलीकाप्टर हादिसा का पहले से इलम हो गया था?। चीफ़ मिनिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी ने आज ज़िला कड़पा के राजम पेट में अपने उम्मीदवार की इंतिख़ाबी मुहिम के दौरान मिसिज़ शर्मीला के सवाल का जवाब देते हुए कहा कि ये सच्च है कि वो भी हैलीकाप्टर में सवार होने वाले थे,

ताहम (फिर भी) असेंबली कमेटीयों की तशकील का काम आ जाने की वजह से उन्हों ने लम्हा आख़िर में अपना प्रोग्राम मंसूख़ करदिया था। अगर उन्हें पहले से हादिसा का इलम होता तो वो डाक्टर राज शेखर रेड्डी को हैलीकाप्टर में सवार ना होने देते।

राज शेखर रेड्डी की मौत से सियासी फ़ायदा उठाने की कोशिश इंतिहाई बद बख्ता ना है। मिसिज़ शर्मीला ने कहा कि चीफ़ मिनिस्टर की ख़ाहिश है कि जगन 14 साल जेल में रहें, जगन को मुनज़्ज़म साज़िश के तहत फंसाया गया है। चीफ़ मिनिस्टर ने कहा कि जगन के साथ कोई साज़िश नहीं रची गई,

जगन की गिरफ़्तारी से कांग्रेस का कोई ताल्लुक़ नहीं है, हाईकोर्ट की हिदायत पर सी बी आई तहक़ीक़ात कर रही है। अगर इल्ज़ामात साबित होते हैं तो जगन को 14 साल तक की जेल हो सकती है।

Top Stories