Friday , December 15 2017

चीफ़ मिनिस्टर को तबदील करने से मुताल्लिक़ मकतूब , नक़ली होने का दावा

हैदराबाद 13 दिसंबर : ( सियासत न्यूज़ ) : रियास्ती वज़ीर हैंडलूम-ओ-टकसटाईल डाक्टर शंकर रावने चीफ़ मिनिस्टर मिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी को तबदील करने के लिए पार्टी सदर मिसिज़ सोनीया गांधी को मकतूब रवाना करने की तरदीद की । इन का नक़ली ल

हैदराबाद 13 दिसंबर : ( सियासत न्यूज़ ) : रियास्ती वज़ीर हैंडलूम-ओ-टकसटाईल डाक्टर शंकर रावने चीफ़ मिनिस्टर मिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी को तबदील करने के लिए पार्टी सदर मिसिज़ सोनीया गांधी को मकतूब रवाना करने की तरदीद की । इन का नक़ली लेटर हैड तैय्यार करते हुए जाली दस्तख़त से सोनीया गांधी को मकतूब रवाना करने का इल्ज़ाम आइद क्या । उस की तहक़ीक़ात कराने का चीफ़ मिनिस्टर से मुतालिबा किया ।

क़सूरवार साबित होने पर अंदरून एक साल मार लेने का पेशकश क्या । हमेशा मुतनाज़ा रिमार्कस से सुर्ख़ीयों में रहने वाले रियास्ती वज़ीर डाक्टर शंकर रावने आज उन के नाम से नक़ली लीटर हैड और जाली दस्तख़त तैय्यार करने का इल्ज़ाम आइद किया है । उन्हों ने कहा कि सोनीया गांधी की सालगिरा के मौक़ा पर चीफ़ मिनिस्टर को तबदील करने के लिए सोनीया गांधी को मकतूब रवाना करने की मीडीया में जो ख़बरें शाय हुई हैं वो बेबुनियाद हैं इस का हक़ायक़ से कोई ताल्लुक़ नहीं है । मैंने माज़ी में चंद वुज़रा की बदउनवानीयों के ख़िलाफ़ पार्टी सदर मिसिज़ सोनीया गांधी को मकतूब रवाना किया था होसकता है ये उन लोगों की साज़िश हो जिन्हें मेरी बदउनवानीयों के ख़िलाफ़ चलाई जा रही तहरीक पसंद नहीं आरही है मेरे हौसले पस्त करने के लिए एक मुनज़्ज़म साज़िश तैय्यार करते हुए मुझे रुसवा करने की कोशिश की जा रही है ।

उन्हों ने नक़ली मकतूब मीडीया को बताते हुए कहा कि वो जब किसी को भी मकतूब रवाना करते हैं तो अपनी दस्तख़त के नीचे तारीख़लिखते हैं लेकिन जाली मकतूब में दस्तख़त के नीचे तारीख़ नहीं है वो बहुत जल्द चीफ़ मिनिस्टर से मुलाक़ात करते हुए उस की तहक़ीक़ात कराने की नुमाइंदगी करेंगे । मेरे नाम से जितने भी मक्तोबात सोनीया गांधी की पेशी को पहूंचे हैं इन सब को वापिस हासिल करने के लिए नुमाइंदगी करेंगे । डाक्टर शंकर रावने कहा कि उन्हें शक है कि ए पी भवन में नक़ली लेटर हैड तैय्यार किया गया और इस के पीछे वो वुज़रा हैं जिन के ख़िलाफ़ वो पहले ही पार्टी सदर मिसिज़ सोनीया गांधी से शिकायत करचुके हैं । साज़िश तैय्यार करने वाले अंदरून 24 घंटे अपनी ग़लती को तस्लीम करले और माज़रत ख़्वाही करें वर्ना वो उन के ख़िलाफ़ क्रीमिनल मुक़द्दमात दर्ज करने से भी गुरेज़ नहीं करेंगे।

TOPPOPULARRECENT