Wednesday , December 13 2017

चीफ मिनिस्टर से नाराज़गी सोनिया गांधी का मुलाक़ात से अमला इनकार

कांग्रेस पार्टी हाईकमान सी डब्लयू सी की मुख़ालिफ़त करने वाले चीफ़ मिनिस्टर किरण कुमार रेड्डी से सख़्त नाराज़ है।

कांग्रेस पार्टी हाईकमान सी डब्लयू सी की मुख़ालिफ़त करने वाले चीफ़ मिनिस्टर किरण कुमार रेड्डी से सख़्त नाराज़ है।
सोनिया गांधी मुलाक़ात का वक़्त देने से भी इनकार कररही हैं। कांग्रेस पार्टी हाईकमान और चीफ़ मिनिस्टर किरण कुमार रेड्डी के दरमयान दूरियां बढ़ रही हैं।

यहां तक कि सदर कांग्रेस सोनिया गांधी के अलावा कांग्रेस कोर कमेटी के अरकान चीफ़ मिनिस्टर किरण कुमार रेड्डी को मुलाक़ात का वक़्त देने से इनकार कररहे हैं।

बावसूक़ ज़राए से पता चला हैके कांग्रेस पार्टी क़ियादत चीफ़ मिनिस्टर और सीमा आंध्र के दूसरे क़ाइदीन से सख़्त नाराज़ है। क्यूंकि चीफ़ मिनिस्टर के तमाम सीमा आंध्र के कांग्रेस क़ाइदीन मर्कज़ी वुज़रा ने तेलंगाना के मसले पर पार्टी सदर सोनिया गांधी के हर फ़ैसले को कुबूल करने का एलान किया था, फ़ैसला करने के बाद इस से मुकर जाने और पार्टी फ़ैसले की खुले आम ख़िलाफ़वरज़ी करने और स्तीफ़े देने की धमकी देने पर सख़्त नाराज़ है।

इसके अलावा मुत्तहदा आंध्र की ताईद में अलाहिदा जमात तशकील देने और असेंबली में तेलंगाना क़रारदाद को शिकस्त देने का एलान करने पर भी ब्रहम है।

पिछ्ले माह 23 और 24 को दिल्ली में रहने के बावजूद पार्टी सदर सोनिया गांधी और इंचार्ज जनरल सेक्रेटरी डिग वजय सिंह ने चीफ़ मिनिस्टर को मुलाक़ात का वक़्त नहीं दिया।

किरण कुमार रेड्डी सिर्फ़ मर्कज़ी वज़ीर-ए-दाख़िला सुशील कुमार शिंदे से मुलाक़ात करके हैदराबाद वापिस होगए। ज़राए ने बताया कि चीफ़ मिनिस्टर टेलीफ़ोन पर कांग्रेस के तमाम सरकरदा क़ाइदीन से बातचीत करने और अपने मौक़िफ़ की मुदाफ़अत करने की कोशिश की है मगर जिन क़ाइदीन से उनकी बातचीत हुई है इन सब ने चीफ़ मिनिस्टर से कहा है कि सी डब्लयू सी के फ़ैसले में कोई तबदीली नहीं होगी।

पार्टी के सीनीयर क़ाइदीन ने उन्हें पार्टी के हदूद पार ना करने का मश्वरा दिया। आज डिग वजय सिंह ने चीफ़ मिनिस्टर के बारे में कोई सवाल ना करने का मीडीया को मश्वरा दिया।

सी डब्लयू सी फ़ैसले के बाद सीमा आंध्र में जारी एहतेजाज के बावजूद अब तक अनटोनी कमेटी के अरकान ने बंद कमरे के मीटिंग में तेलंगाना के फ़ैसले से दस्तबरदार ना होने का सीमा आंध्र के तमाम क़ाइदीन से इज़हार किया।

इस के अलावा शिंदे, डिग वजय सिंह, वीरप्पा मोईली के अलावा कांग्रेस के तर्जुमान अफ़ज़ल, चाकू और संदीप डकशट ने भी तेलंगाना के फ़ैसले पर बरक़रार रहने और काबीनी नोट तैयार होने का एलान किया है।

TOPPOPULARRECENT