चीफ़ मिनिस्टर और सदर पी सी सी के दरमयान ताल मेल का फ़ुक्दान

चीफ़ मिनिस्टर और सदर पी सी सी के दरमयान ताल मेल का फ़ुक्दान
हैदराबाद (सियासत न्यूज़) मर्कज़ी वज़ीर ए आई सी सी के मुबस्सिर मिस्टर वीलार रवी ने आज दिल्ली में सदर कांग्रेस मिसिज़ सोनीया गांधी से मुलाक़ात करते हुए अपने चार रोज़ा दौरा आंधरा प्रदेश की 35 सफ़हात पर मुश्तमिल रिपोर्ट पेश करदी, जिस में

हैदराबाद (सियासत न्यूज़) मर्कज़ी वज़ीर ए आई सी सी के मुबस्सिर मिस्टर वीलार रवी ने आज दिल्ली में सदर कांग्रेस मिसिज़ सोनीया गांधी से मुलाक़ात करते हुए अपने चार रोज़ा दौरा आंधरा प्रदेश की 35 सफ़हात पर मुश्तमिल रिपोर्ट पेश करदी, जिस में
चीफ़ मिनिस्टर और सदर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के दरमयान ताल मेल के फ़ुक़दान, क़ाइदीन की नाराज़गी, पार्टी कैडर में मायूसी का तज़किरा करते हुए वज़ारत में तबदीली लाने और सुप्रीम कोर्ट से जिन वुज़रा को नोटिस वसूल हुई है, उन्हें वज़ारत से हटाने पर ज़ोर दिया है।

पार्टी के बावसूक़ ज़राए ने बताया कि चार दिन तक आंधरा प्रदेश में क़ियाम करने वाले मिस्टर वीलार रवी ने कल दिल्ली पहुंचते ही मर्कज़ी वज़ीर‍ ए‍ सीहत-ओ-इंचार्ज आंधरा प्रदेश कांग्रेस उमूर मिस्टर ग़ुलाम नबी आज़ाद से मुलाक़ात की और तक़रीबन डेढ़ घंटे तक रियासत की ताज़ा सयासी सूरत-ए-हाल और कांग्रेस के बोहरान पर तबादला-ए-ख़्याल किया।

आज सुबह मिस्टर वईलार रवी 10 जनपथ पहुंच कर पार्टी सदर मिसिज़ सोनीया गांधी से मुलाक़ात की और अपने दौरा आंधरा प्रदेश के दौरान कांग्रेस क़ाइदीन से मुलाक़ात के तास्सुरात और अपनी राय पर मुश्तमिल रिपोट पेश की, जिस में उन्हों ने चीफ़ मिनिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी की अंदाज़ कारकर्दगी और बोहरान पर क़ाबू पाने में नाकामी का तज़किरा किया है।

वाय‌दा के मुताबिक़ एक साल गुज़र जाने के बावजूद एक लाख मुलाज़मत फ़राहम ना करने और एलान कर्दा स्कीमात पर
मूअस्सीर अमल आवरी ना होने का भी तज़किरा किया है।

इसी तरह स्कीमात के एलान से क़ब्ल वुज़रा को एतिमाद में ना लेने की शिकायत भी की है। असल अप्पोज़ीशन तेल्गूदेशम पार्टी जहां डाक्टर राज शेखर रेड्डी के दौर-ए-हकूमत में हुई बदउनवानीयों के ख़िलाफ़ हुकूमत को निशाना बना रही है, वहीं जगन मोहन रेड्डी अपने वालिद की मुतआरिफ़ कर्दा स्कीमात को फ़रामोश करने का हुकूमत पर इल्ज़ाम आइद कर रहे हैं।

चीफ़ मिनिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी और सदर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के दरमयान राबिता और ताल मेल का फ़ुक़दान है। कई वुज़रा, अरकान असेंबली और अरकान-ए-पार्लीमेंट को चीफ़ मिनिस्टर के अंदाज़ कारकर्दगी पर एतराज़ है।

उन्हों ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि कांग्रेस के कई वुज़रा पर बदउनवानीयों और शराब स्केंडल में मुलव्वस होने के इल्ज़ामात हैं। छः वुज़रा को सुप्रीम कोर्ट ने नोटिस दी है, इन वुज़रा को वज़ारत से हटाकर शफ़्फ़ाफ़ियत का सबूत पेश करने की ज़रूरत है। साथ ही वज़ारत में बड़े पैमाने पर तब्दीली भी होनी चाहीए। कांग्रेस बोहरान पर क़ाबू पाने और पार्टी क़ाइदीन की शिकायत दूर करने के लिए नामज़द ओहदों पर तक़र्रुत ज़रूरी हैं।

उन्हों ने हाईकमान को बताया कि कांग्रेस पार्टी के कई क़ाइदीन जगन मोहन रेड्डी के मुख़्बिर बने हुए हैं और ज़िमनी इंतिख़ाबात में कामयाबी के लिए बहुत पहले उम्मीदवारों का एलान किया जाना चाहीए, जिस के लिए पार्टी क़ाइदीन का इत्तिहाद निहायत ज़रूरी है।

Top Stories