Thursday , June 21 2018

चीफ़ मिनिस्टर की मर्कज़ी वुज़रा के ग्रुप से आज मुलाक़ात

आंध्र प्रदेश के चीफ़ मिनिस्टर एन किरण कमा रेड्डी अपनी रियासत की तक़सीम के मसले पर मर्कज़ी वुज़रा के ग्रुप से 18 नवंबर को नई दिल्ली में कलीदी बातचीत करेंगे।

आंध्र प्रदेश के चीफ़ मिनिस्टर एन किरण कमा रेड्डी अपनी रियासत की तक़सीम के मसले पर मर्कज़ी वुज़रा के ग्रुप से 18 नवंबर को नई दिल्ली में कलीदी बातचीत करेंगे।

किरण कुमार रेड्डी ने कहा कि रियासत को मुत्तहदा रखने के लिए मर्कज़ को तरग़ीब देने की कोशिश करेंगे। उन्होंने पिछ्ले रोज़ कहा था कि में मुत्तहिद रियासत के अह्द का पाबंद हूँ और इस बात पर यक़ीन रखा हूँ कि रियासत में उस वक़्त भी बड़े पैमाने पर तरक़्क़ी की जा सकती है जब उसको ग़ैर मुनक़सिम रखा जाये।

तक़सीम से कई मसाइल पैदा होंगे। इस से एसे कई मसाइल पैदा होंगे जो बह असानी हल नहीं किए जा सकीं गे। चुनांचे में मर्कज़ी वुज़रा के ग्रुप में रियासत को मुत्तहिद रखने की ज़रूरत बयान करुंग‌।

किरण कुमार रेड्डी ने ये भी कहा कि में अपने ओहदे पर बरक़रार रहने के बारे में फ़िक्रमंद नहीं हूँ। इस दौरान सीमांध्र इलाक़े से ताल्लुक़ रखने वाले मर्कज़ी वुज़रा ने आज मर्कज़ी वुज़रा के ग्रुप से मुलाक़ात की और वाज़िह किया कि वो रियासत को मुत्तहिद रखने की मसाई करेंगे।

ताहम उन्होंने ये भी कहा कि अगर रियासत की तक़सीम नागुज़ीर ही है तो राइलसीमा और साहिली आंध्र के मुफ़ादात का तहफ़्फ़ुज़ किया जाना चाहीए।

इस दौरान इलाके तेलंगाना से ताल्लुक़ रखने वाले मर्कज़ी वुज़रा ने मर्कज़ी वुज़रा से होने वाली अपनी मुलाक़ात से पहले सीनीयर मर्कज़ी वज़ीर एस जय पाल रेड्डी की नई दिल्ली में वाक़्ये रिहायश गाह पर अपनि मीटिंग मुनाक़िद किया जिस में अलाहिदा तेलंगाना से मुताल्लिक़ कलीदी उमूर-ओ-मसाइल पर तबादला-ए-ख़्याल किया गया।

जिन में भद्राचलम को मुजव्वज़ा अलाहिदा तेलंगाना में बरक़रार रखने के अलावा तवानाई की ज़रूरीयात पर तफ़सीली ग़ौर-ओ-ख़ौज़ भी शामिल है।

मिस्टर रेड्डी ने कहा कि ताहम वुज़रा के ग्रुप को पेश किए जाने वाली दस्तावेज़ में हम ने बराबर इंसाफ़ का तसव्वुर पेश किया है। जय पाल रेड्डी ने कहा कि मुसावियाना इंसाफ़ के हुसूल के लिए चंद्राबाबू नायडू आख़िर किस लिए मर्कज़ी वुज़रा के ग्रुप से रुजू होने में नाकाम होगए। उन्होंने कहा कि तेलंगाना और सीमांध्र के अवाम अब चंद्राबाबू नायडू की कहानीयों पर तवज्जा देने के लिए तैयार नहीं हैं।

TOPPOPULARRECENT