Tuesday , December 12 2017

चीफ़ मिनिस्टर की रिहायश गाह के बाहर एहतेजाज करने वाले मुलाज़िमीन गिरफ़्तार

चीफ़ मिनिस्टर उमर अब्दुल्लाह की रिहायश गाह की तरफ़ एहतेजाजी मार्च के साथ आगे बढ़ने वाले जम्मू-ओ-कश्मीर के हज़ारों सरकारी मुलाज़िमीन को गिरफ़्तार करलिया गया है जोकि यौमिया उजरत और आरिज़ी तौर पर मुलाज़िमत अंजाम देने के बरअक्स मुलाज़मतो

चीफ़ मिनिस्टर उमर अब्दुल्लाह की रिहायश गाह की तरफ़ एहतेजाजी मार्च के साथ आगे बढ़ने वाले जम्मू-ओ-कश्मीर के हज़ारों सरकारी मुलाज़िमीन को गिरफ़्तार करलिया गया है जोकि यौमिया उजरत और आरिज़ी तौर पर मुलाज़िमत अंजाम देने के बरअक्स मुलाज़मतों को बाक़ायदा बनाने का मुतालिबा कररहे हैं।

ज़राए के बमूजब पब्लिक हैल्त इंजीनीयरिंग (पी ऐच ई) शोबा के मुलाज़िमीन सख़्त सयान्ती इलाक़ा गपकार में चीफ़ मिनिस्टर की रिहायश गाह की सिम्त एहतेजाज करते हुए आगे बढ़ रहे थे। मुलाज़िमीन का एहतेजाजी क़ाफ़िला जब संवर पहुंचा तो पुलिस ने उन्हें मुंतशिर होने की हिदायत दी लेकिन एहतेजाजी मुलाज़िमीन ने पुलिस के हुक्म की तामील नहीं की जिस के बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 15 मुलाज़िमीन को हिरासत में ले लिया।

ये एहतेजाज कश्मीर पी ऐच ई जवाइंट इम्पलाइज़ एसोसीएष्ण की जानिब से शुरू किया गया है जिसे कई और तंज़ीमों की हिमायत हासिल है जबकि एहतेजाज करने वालों का मुतालिबा है कि यौमिया उजरत पर ख़िदमात अंजाम देने वाले मुलाज़िमीन को मुस्तक़िल मौक़िफ़ दिया जाये और साथ ही तनख़्वाहों के बकाया जात अदा किए जाएं। मुलाज़िमीन गुज़िशता कई माह से मुसलसल एहतेजाज कररहे हैं और अपने मुतालिबात की यकसूई केलिए अर्बाब मजाज़ पर ज़ोर डाल रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT