Monday , December 11 2017

चीफ़ मिनिस्टर ने हेलीकाप्टर में 15 मिनट तक पायलट का इंतिज़ार किया

चीफ़ मिनिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी को पायलट की ग़ैरमौजूदगी के बाइस हेलीकाप्टर में तक़रीबन पंद्रह मिनट तक इंतेज़ार करने पर मजबूर होना पड़ा।

चीफ़ मिनिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी को पायलट की ग़ैरमौजूदगी के बाइस हेलीकाप्टर में तक़रीबन पंद्रह मिनट तक इंतेज़ार करने पर मजबूर होना पड़ा।

चीफ़ मिनिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी जिन्हों ने आज तूफ़ान फ़ाइलुन से मुतास्सिरा ज़िला श्रीकाकुलम के मुख़्तलिफ़ मुक़ामात का फ़िज़ाई दौरा करने के दौरान रीछापूरम में एक सकत तजुर्बा से दो चार होना पड़ा और हेलीकाप्टर पायलट के इंतेज़ार में तक़रीबन 15 मिनट तक उन्हें हेलीकाप्टर में ही बैठे रहना पड़ा।

जब अच्छापूरम में ओहदेदारों वग़ैरा के साथ तूफ़ान फ़ाइलुन से पेश आए नुक़्सानात से वाक़फ़ीयत हासिल करने के लिए मुनाक़िदा मीटिंग में शिरकत की तब हेलीकाप्टर पायलट गेस्ट हाउज़ के कमरे में क़ियाम किए हुए थे और कुछ देर बाद मीटिंग का इख़तेताम अमल में आया लेकिन मीटिंग के ख़त्म होने की इत्तेला से पायलट बेख़बर थे जिस की वजह से वो गेस्ट हाउज़ के कमरे में ही मुक़ीम रहे लेकिन चीफ़ मिनिस्टर मीटिंग के इख़तेताम पर जैसे ही हेलीकाप्टर में जाकर बैठ गए उस वक़्त हेलीकाप्टर के पायलट मौजूद नहीं थे और पायलेट की ग़ैरमौजूदगी से तमाम ओहदेदार वग़ैरा हैरान परेशान हुए और उनकी तलाश करते हुए गेस्ट हाउज़ के कमरे में तलाश की गई तो उस वक़्त पायलेट कमरे में ही मौजूद थे और मीटिंग के ख़त्म होने की उन्हें कोई इत्तेला नहीं मिल सकी जिस के बाइस वो कमरे में रह गए ताहम जब पायलेट को चीफ़ मिनिस्टर के हेलीकाप्टर में बैठ जाने की इत्तेला दी गई तो वो तेज़ी के साथ हेलीकाप्टर की तरफ़ रवाना होगए।

और इस तरह चीफ़ मिनिस्टर की रवानगी में तक़रीबन 15 मिनट की देर हुई और बादअज़ां चीफ़ मिनिस्टर बज़रीया हेलीकाप्टर वहां से दुसरे मुक़ाम को रवाना होगए।

TOPPOPULARRECENT