Wednesday , December 13 2017

चीफ़ मिनिस्टर मग़रिबी बंगाल के होटल के कमरे में आतिशज़दगी की सी बी आई तहक़ीक़ात का कांग्रेस का मुतालिबा

कांग्रेस ने आज मुतालिबा किया कि आतिशज़दगी के वाक़िये की सी बी आई तहक़ीक़ात की जाएं । होटल के इस कमरे में जहां चीफ़ मिनिस्टर मग़रिबी बंगाल ममता बनर्जी मुक़ीम थीं कल आग भड़क उठी थी।

कांग्रेस ने आज मुतालिबा किया कि आतिशज़दगी के वाक़िये की सी बी आई तहक़ीक़ात की जाएं । होटल के इस कमरे में जहां चीफ़ मिनिस्टर मग़रिबी बंगाल ममता बनर्जी मुक़ीम थीं कल आग भड़क उठी थी।

वो 24 अप्रैल के लोक सभा इंतेख़ाबात केलिए इंतेख़ाबी मुहिम चलाने मालदा के दौरे पर थीं। मर्कज़ी वज़ीर सदर मग़रिबी बंगाल प्रदेश कांग्रेस अधीर रंजन चौधरी ने एक प्रेस कान्फ्रेंस से ख़िताब करते हुए कहा कि यहां इंतेख़ाबी जलसे से ख़िताब के बाद होटल में जो वाक़िया पेश आया उसकी सी बी आई तहक़ीक़ात ही इस वाक़िये के पसेपर्दा इसरार का पर्दा फ़ाश करसकती हैं।

उन्होंने कहा कि हालाँकि तृणमूल कांग्रेस का कहना है कि आतिशज़दगी के पीछे कोई साज़िश नहीं थी लेकिन चौधरी ने कहा कि ये हैरतअंगेज़ बात है कि ममता बनर्जी की हिफ़ाज़त के ज़िम्मेदार अरकाने अमला के ख़िलाफ़ कोई कार्रवाई नहीं की गई। इस वाक़िये को पुर इसरार क़रार देते हुए चौधरी ने कहा कि सिर्फ़ सी बी आई तहक़ीक़ात ही ये मसला हल करसकती हैं।

फोरेंसिक माहिरीन की एक टीम आज यहां पहुंची ताकि कमरे का जायज़ा ले सके और नमूने हासिल करसके । आतिश फ़िरौ अमला की ख़िदमात और ज़िला पुलिस पहले ही मौक़ा-ए-वारदात का जायज़ा ले रही है ताकि आतिशज़दगी की वजह का पता चलाया जा सके । रियासती वज़ीर ट्रांसपोर्ट मुदुन मित्रा ने इद्दिआ किया कि आतिशज़दगी के पसेपर्दा कोई साज़िश नहीं है। चौधरी ने कहा कि साज़िशियों की निशानदेही की जानी चाहिए। मुदुन मित्रा उन के क़ियाम के दौरान उन के हमराह थे।

TOPPOPULARRECENT