चुनाव की तारीखों से रमज़ान का नाम जोड़ना बिल्कुल गलत है- ओवैसी

चुनाव की तारीखों से रमज़ान का नाम जोड़ना बिल्कुल गलत है- ओवैसी

लोकसभा चुनाव की तारीखों के एलान के साथ ही एक नया विवाद सामने आ खड़ा हुआ है। उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और बिहार में सात चरणों में चुनाव होने हैं। ऐसे में चुनाव की कुछ तारीखों के रमजान महीने के दौरान पड़ने पर बयानबाजी शुरू हो गई है।

अमर उजाला पर छपी खबर के अनुसार, एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने विवाद पर बोलते हुए कहा, “ये सारा विवाद बेकार का है। इसकी कोई जरूरत नहीं नहीं है। मैं उन राजनीतिक दलों से गुजारिश करना चाहूंगा कि आप किन्हीं भी कारणों से मुस्लिम समुदाय और रमजान का इस्तेमाल न करें। रमजान के दौरान मुसलमान जरूर रोजे रखेंगे।

वो बाहर भी निकलेंगे, सामान्य जिंदगी जिएंगे। वो दफ्तर जाएंगे। सबसे गरीब भी रोजे रखेंगे। मुझे तो लगता है कि रमजान के महीने में ज्यादा मतदान होगा क्योंकि इस महीने में लोग बाकी सांसारिक कर्तव्यों से दूर रहेंगे।” दरअसल, आखिरी तीन चरणों यानी 6, 12 और 19 मई को मतदान के दौरान रमजान का महीना भी चल रहा होगा।

Top Stories