Thursday , December 14 2017

चेक बाउंस मामले में पूर्व विधायक को छह माह की सजा और 6 लाख स्र्पए का जुर्माना

छिंदवाड़ा : चेक बाउंस के मामले में पूर्व विधायक को जिला एवं सत्र न्यायालय ने मंगलवार को 6 माह की सजा सुनाई है। साथ ही 6 लाख स्र्पए का जुर्माना लगाया है। पूर्व विधायक और कांग्रेस नेता रामदास उइके ने नरसला गांव के सरपंच से जमीन खरीदी के लिए 5.50 लाख स्र्पए उधार लिए थे। बाद में उधारी चुकाने के लिए पूर्व विधायक ने सरपंच को पूरी रकम का चेक दे दिया था। जब सरपंच ने राशि आहरण करने के लिए चेक बैंठक में लगाया तो पूर्व विधायक के खाते में राशि नहीं पाई गई।

उनका चेक बाउंस हो गया। पहले तो सरपंच ने पूर्व विधायक को इस संबंध में सूचना दी तो उन्होंने गंभीरता से नहीं लिया। बाद में पीड़ित ने न्यायालय का दरवाजा खटखटाया। जहां सुनवाई करते हुए न्यायाधीश ने साक्ष्यों के आधार पर पूर्व विधायक को 6 माह के कारावास एवं 6 लाख स्र्पए की क्षतिपूर्ति राशि जमा करने के निर्देश दिए।

जानकारी के अनुसार नरसला ग्राम पंचायत के सरंपच सुनील चन्द्रवंशी ने बताया कि पूर्व विधायक रामदास उईके ने जमीनी खरीदी के लिए उनसे 5.50 लाख स्र्पए की राशि उधार ली थी। राशि उधार लेने के बाद उन्हें तय समय में स्र्पए लौटाना थी लेकिन उन्होंने राशि नहीं लौटाई। बार-बार कहने पर पूर्व विधायक रामदास उईके ने उक्त राशि का चेक दिया। इस चेक को उस पर अंकित तय तारीख पर ही बैंक में लगाया गया। लेकिन चेक बाउंस हो गया चेक बाउंस होने पर भी बार-बार राशि लौटाए जाने के लिए कहा गया।

लेकिन फिर भी राशि नही दी गई। जिस कारण अधिवक्ता राकेश सरबरिया के माध्यम से न्यायालय का दरवाजा खटखटाया। जहां मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट राकेश रावतकर के न्यायालय में सुनवाई हुई। न्यायालय में सुनवाई होने के दौरान साक्ष्यों के आधार पर मंगलवार को चेक बाउंस का मामला पाया गया और पूर्व विधायक रामदास उईके को दोषी पाते हुए न्यायाधीश ने 6 माह के कारावास की सजा सुनाते हुए 6 लाख स्र्पए क्षतिपूर्ति राशि जमा करने के निर्देश दिए।

TOPPOPULARRECENT