Tuesday , December 12 2017

चैक जम्हूरीया के हिरासती मर्कज़ में मुहाजिरीन की भूक हड़ताल

चैक जम्हूरीया में क़ायम एक हिरासती मर्कज़ में मौजूद दर्जनों मुहाजिरीन ने उन्हें वहां लंबे अर्से से रखे जाने और वापिस उनके मुल्कों को भेजे जाने की धमकीयों के ख़िलाफ़ भूक हड़ताल कर दी है।

चैक रिपब्लिक अपनी सरज़मीन के रास्ते बड़े पैमाने पर मुहाजरत से बचा रहा है। इस की वजह ये है कि मशरिक़े वुस्ता में जंग और ग़ुर्बत से तंग आकर रवां बरस यूरोप की तरफ़ मुहाजरत करने वाले ज़्यादातर अफ़राद बलक़ान के खित्ते से ऑस्ट्रिया और जर्मनी पहुंचे हैं।

वो लोग जो चैक जम्हूरीया का रास्ता अख़तियार करते हैं और सियासी पनाह की दरख़ास्त नहीं देते उन्हें हिरासत में ले लिया जाता है। ऐसे लोगों को अक्सर कई हफ़्तों तक हिरासती मराकज़ में रखा जाता और उन्हें यूरोपीय यूनीयन के उन ममालिक में वापिस भेजे जाने का ख़तरा दरपेश होता है जहां उन्होंने सियासी पनाह की दरख़ास्त दी होती है या जिस मुल्क से वो चैक जम्हूरीया में दाख़िल हुए होते हैं।

TOPPOPULARRECENT