चोरी के शक में एक और इंसान की पीट-पीटकर हत्या, आईआरबी का एक हवलदार सहित 5 गिरफ्तार

चोरी के शक में एक और इंसान की पीट-पीटकर हत्या, आईआरबी का एक हवलदार सहित 5 गिरफ्तार
Click for full image

मणिपुर के इंफाल पश्चिम जिले में वाहनों की चोरी करने के संदेह में भीड़ ने 26 वर्षीय एक व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या कर दी. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मामले के संबंध में पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है. इसमें इंडिया रिजर्व बटालियन (आईआरबी) का एक हवलदार भी शामिल है. हमले का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वाइरल हो गया. संदिग्ध कार चोर पर हमले की घटना गुरुवार को थौरोइजाम अवांग लेइकई इलाके में हुई. आरोपी की अस्पताल ले जाने के दौरान मौत हो गई. एक पुलिस दल घटनास्थल पर पहुंचा और उसने हालात पर नियंत्रण किया. भीड़ ने एक कार में आग लगा दी. लोगों को संदेह था कि पीड़ित के सहयोगियों ने उस कार का इस्तेमाल किया.

इंफाल पश्चिम जिले के एसपी जोगेश्वर हाओबिजाम ने कहा, ”पीड़ित के दो सहयोगी घटनास्थल से भाग गए. भीड़ हत्या में शामिल लोगों का पता लगाने की कोशिश की जा रही है.” एसपी जोगेश्वर हाओबिजाम ने बताया कि संदिग्ध कार चोर पर हमले की घटना गुरुवार को थौरोइजाम अवांग लेइकई इलाके में हुई. आरोपी की अस्पताल ले जाने के दौरान मौत हो गई. एक पुलिस दल घटनास्थल पर पहुंचा और उसने हालात पर नियंत्रण किया.

उन्होंने बताया कि भीड़ हत्या में शामिल होने के संदेह में शुक्रवार को पांच लोगों को उनके घर से गिरफ्तार किया. इनमें से एक आईआरबी का हवलदार है, जो दोपहिया वाहन का मालिक है और पीड़ित ने उसके गैराज से कथित तौर पर उसे चुराने का प्रयास किया था. पांच आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है. नगर की एक अदालत ने शनिवार को चार दिन के लिये उन्हें पुलिस हिरासत में भेज दिया.

एसपी ने बताया कि पुलिस की साइबर अपराध शाखा उन लोगों का पता लगाने की कोशिश कर रही है, जिन्होंने हमले की तस्वीरें और वीडियो अपलोड किए. मणिपुर मानवाधिकार आयोग ने घटना का स्वत: संज्ञान लिया और राज्य के पुलिस महानिदेशक को मामले की जांच करने और 22 सितंबर तक रिपोर्ट सौंपने को कहा. थौरोइजाम गांव के लोगों ने शुक्रवार को पटसोई थाने का घेराव किया और गिरफ्तार लोगों को रिहा करने की मांग की. पुलिस सूत्रों ने बताया कि भीड़ ने पुलिसकर्मियों पर भी पथराव किया. इसके बाद भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने लाठियों और आंसू गैस के गोले दागे गए.

Top Stories