Tuesday , June 19 2018

चौटाला की उबूरी ज़मानत में 10 जुलाई तक तौसीअ

दिल्ली हाइकोर्ट ने आज साबिक़ चीफ़ मिनिस्टर हरियाणा ओम प्रकाश चौटाला की उबूरी ज़मानत की मुद्दत में 10 जुलाई तक तौसीअ करदी। वो असातिज़ा के तक़र्रुत के मुक़द्दमे में 10 साल की सज़ाए क़ैद भुगत रहे हैं। अदालत ने तिब्बी बुनियादों पर 89 साला चौट

दिल्ली हाइकोर्ट ने आज साबिक़ चीफ़ मिनिस्टर हरियाणा ओम प्रकाश चौटाला की उबूरी ज़मानत की मुद्दत में 10 जुलाई तक तौसीअ करदी। वो असातिज़ा के तक़र्रुत के मुक़द्दमे में 10 साल की सज़ाए क़ैद भुगत रहे हैं। अदालत ने तिब्बी बुनियादों पर 89 साला चौटाला को 3 जून को 3 हफ़्ते की उबूरी ज़मानत मंज़ूरी की थी।

उनके छोटे भाई प्रताप सिंह का एक‌ जून को इंतेक़ाल हुआ था। तातीलात के बेंच के जस्टिस प्रतिभा रानी ने चौटाला को हिदायत दी थी कि वो 11 जुलाई को ख़ुदसपुर्दगी करदें। इंडियन नेशनल लोक दल के क़ाइद की उबूरी ज़मानत में अदालत ने 3 जून के हुक्मनामे की क़वाइद-ओ-शराइत के साथ तौसीअ करदी है जबकि सी बी आई ने अपनी मौक़िफ़ रिपोर्ट पेश करदी थी।

फ़रीक़ैन के वुकला आर के आनंद और अमीत सुहानी के मुबाहिस की समाअत के बाद रिपोर्ट में उबूरी ज़मानत की मुद्दत में तौसीअ करदी। सी बी आई ने अपने मौक़िफ़ रिपोर्ट में कहा था कि चौटाला के मैदानता हॉस्पिटल के आई सी यू में शरीक हैं और अगर डॉक्टर्स इजाज़त दें तो वो अपने भाई की बाक़ी आख़िरी रसूमात में शिरकत करसकेंगे।

अदालत ने उबूरी ज़मानत की मुद्दत में मज़ीद 21 दिन की तौसीअ करते हुए उनको हिदायत दी है कि 5 लाख रुपये के शख़्सी मुचल के और इसी रक़म की दो ज़मानतें दाख़िल करें।

TOPPOPULARRECENT