Monday , December 11 2017

चौटाला ने किया जाटों का समर्थन “पहले से ही था सरकार पर संदेह”

जाट आरक्षण आंदोलन का ताजा चरण हरियाणा के विभिन्न हिस्सों में आज लगातार दसवें दिन जारी रहा जहां विपक्षी इनेलोद ने इसे अपना समर्थन जताया और पार्टी के वरिष्ठ नेता अभय चौटाला ने कहा कि वह कल आंदोलनकारियों से मिलेंगे।

अधिकारियों ने यहां कहा कि राज्य में आंदोलन शांतिपूर्ण रहा और कोई अप्रिय घटना की खबर नहीं है।

राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता चौटाला ने आज कहा कि उनकी पार्टी इस बात की पक्षधर है कि जाटों को और अन्य पांच समुदायों को दिया आरक्षण बरकरार रहना चाहिए।

उन्होंने कहा कि कल वह रोहतक, झज्जर, जींद और कैथल जिलों का दौरा करेंगे जहां आंदोलनकारी जाट अपनी मांगों के समर्थन में पिछले दस दिन से धरना दे रहे हैं।

चौटाला ने एक बयान में कहा, ‘‘शुरूआत से ही हमें जाटों और पांच अन्य समुदायों को आरक्षण देने में सरकार के इरादे पर संदेह था, जिस वजह से मामला अदालतों में अटका है।’’ आंदोलन के बारे में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने आज कहा कि आपसी बातचीत से मुद्दे को सुलझाया जा सकता है।

उन्होंने कहा कि प्रशासनिक अधिकारियों ने आंदोलनकारियों के साथ बातचीत शुरू कर दी है और सराहनीय बात है कि वे बातचीत के लिए तैयार हैं।

खट्टर ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘इससे पहले उनके नेताओं के साथ 15 जून को बैठक होनी थी लेकिन अब यह उनके अनुरोध पर 17 जून को होगी।’’ उन्होंने कहा कि आरक्षण के संबंध में कानून लागू कर दिया गया है।

मुख्यमंत्री के मुताबिक, ‘‘मामला उच्च न्यायालय में है और स्थगन को रद्द कराने के प्रयास हो रहे हैं।’’ उन्होंने कहा कि राज्य सरकार अदालत में पुरजोर तरीके से मामले में बचाव कर रही है।

TOPPOPULARRECENT