Friday , June 22 2018

छत्तीसगढ़ में पहले मरहला की पोलिंग शुरू

छत्तीसगढ़ एसेंबली केलिए पहले मरहला के इंतिख़ाबात का आज सख़्त सेक्योरिटी के दरमयान आज शुरु हुआ जहां रमन सिंह की क़ियादत वाली बी जे पी हुकूमत कांग्रेस के ख़िलाफ़ हैट्रिक करने का इरादा रखती है।

छत्तीसगढ़ एसेंबली केलिए पहले मरहला के इंतिख़ाबात का आज सख़्त सेक्योरिटी के दरमयान आज शुरु हुआ जहां रमन सिंह की क़ियादत वाली बी जे पी हुकूमत कांग्रेस के ख़िलाफ़ हैट्रिक करने का इरादा रखती है।

नक्सलाईटस से इंतिहाई मुतास्सिरा खित्तों और राजनंदगा के 18 हल्क़ा-ए-इंतख़ाब में वोटिंग होगी जहां वज़ीर-ए-आला के इलावा दीगर तीन वुज़रा की क़िस्मत का भी फ़ैसला होगा। खबर‌ के मुताबिक़ बिस्तर डविझन‌ के 12 एसेंबली हल्क़ों में जुमला 143 उम्मीदवार इंतिख़ाबी मैदान में हैं जबकि राजनंदगा के 6 एसेंबली हल्क़ों में 6 उम्मीदवारों की क़िस्मत का फ़ैसला होगा।

90 रुक्नी रियासती एसेंबली में दो मरहलों में इंतिख़ाबात किए जा रहे हैं जहां पहले मरहले में 29,33,200 राय दहिंदे अपने हक़ राय दही का इस्तिमाल करेंगे। बेस्तर के 12 एसेंबली हल्क़ों और राजनंदगा के एक एसेंबली हल्क़े में वोटिंग का आग़ाज़ सुबह सात बजे हुआ जिसका इख़तताम सहपहर तीन बजे होगा जबकि राजनंदगा के दीगर एसेंबली हल्क़ों में राय दही का वक़्त सुबह 8 बजेता शाम 5 बजे होगा।

चीफ़ इलेक्ट्रॉल ऑफ़िस से मुताल्लिक़ा एक ऑफीसर ने ये बात बताई। रियासत भर में सेक्योरिटी फ़ोर्स की काबिल लिहाज़ तादाद तैनात की गई है ताकि पुरअमन वोटिंग को यक़ीनी बनाया जा सके। वज़ीर-ए-आला रमन सिंह राजनंदगा हल्क़ा-ए-इंतख़ाब से अपनी क़िस्मत आज़माई कररहे हैं जबकि उन के मुक़ाबले में कांग्रेस की हल्का मुदलियार को खड़ा किया गया है जो कांग्रेस के मक़्तूल क़ाइद उदय मुदलियार की बेवा हैं जबकि महिन्द्र कर्मा की बेवा देवी कर्मा को दानतेवाड़ा ।

ST नशिस्त के लिए इंतिख़ाबी मैदान में उतारा गया है। वज़ीर जंगलात विक्रम यूसेंडी को अनिता गढ़ नशिस्त केलिए मुंतख़ब किया गया है जिन्होंने गुजिश्ता इंतिख़ाबात में कांग्रेस के साबिक़ एम एल ए मंतोराम पवार को शिकस्त दी थी। कोंटा नशिस्त के लिए बेस्तर के मौजूदा कांग्रेस एम एल ए को इसी लखमा को दुबारा नामज़द किया गया है।

आज जिन हल्क़ा राय दही में इंतिख़ाब होरहे हैं उन में खेरा गढ़, डोंगर गढ़, राज नंदगा, डोंगर गा, खजी, मोहल्ला। मांपूर, भानूप्रताप पुर, कंकीर, कशीकाल, नारायण पुर, बिस्तर, जगदाल पुर, चित्रकूट, दानतेवाड़ा और बीजापूर के नाम काबिल-ए-ज़िकर हैं।

TOPPOPULARRECENT