Wednesday , December 13 2017

छल्ला मुबारक के क़रीब सलाम पढ़ने की इजाज़त नहीं

जुमा के मौके पर पुरअमन फ़िज़ा को खरब होने के अंदेशे के पेशे नज़र साउथ ज़ोन पुलिस ने चारमीनार और मक्का मस्जिद के क़रीब सकीवरीटी के वसी तरीन इंतिज़ामात किए हैं ।

जुमा के मौके पर पुरअमन फ़िज़ा को खरब होने के अंदेशे के पेशे नज़र साउथ ज़ोन पुलिस ने चारमीनार और मक्का मस्जिद के क़रीब सकीवरीटी के वसी तरीन इंतिज़ामात किए हैं ।

बाद नमाज़ जुमा मुस्लियों को तारीख़ी इमारत चारमीनार के शुमाली सिम्त गुलज़ार हौज़ की तरफ जाने नहीं दिया जाएगा और रिया पड एक्शण फ़ोर्स के प्लाटूनस को मुतय्यन किया जा रहा है ।

डिप्टी कमिशनर पुलिस साउथ ज़ोन डाक्टर अकोन सभरवाल ने बताया कि मक्का मस्जिद में नमाज़ की अदायगी के लिए मुस्लियों को नहीं रोका जाएगा लेकिन नमाज़ के इख़तताम के बाद मुस्लियों को गुलज़ार हौज़ की सिम्त के बजाय पंज मुहल्ला और मुग़ल पूरा फ़ायर स्टेशन के रास्तों से अपने मुक़ामात जाने की इजाज़त दी जाएगी ।

डी सी पी ने मज़ीद बताया कि जुमा की नमाज़ के बाद किसी भी फ़र्द को चारमीनार के दामन में वाक़ये छल्ला मुबारक के क़रीब सलाम पढ़ने की इजाज़त नहीं दी जाएगी लेकिन उन्हों ने कहा कि अगर 7 दिसमबर पुरअमन गुज़र जाता है तो आइन्दा चंद मख़सूस नौजवानों को सलाम पढ़ने की इजाज़त देने पर ग़ौर किया जा रहा है।

TOPPOPULARRECENT