Saturday , May 26 2018

छोटी ड्रेस पहनने पर प्रोफेसर ने टोका तो छात्रा ने उतारे पूरे कपड़े

भारतीय कॉलेजों में हमेशा छात्राओं के कपड़ों पर विवाद होते रहते हैं. ऐसे में अमेरिका की एक यूनिवर्स‍िटी की एक छात्रा कई लोगों के लिए मिसाल बन गई है

न्‍यूयॉर्क के कार्नेल यूनिवर्स‍िटी की छात्रा लेटिटिया चाय एक ट्रायल प्रेजेंटेशन दे रही थी, तब उसकी प्रफेसर रेबेका मेग्‍गोर ने उन्‍हें उनकी छोटी स्‍कर्ट के लिए टोका था.

डेली मेल की खबर के अनुसार, लेटिटिया चाय को यह बात बुरी लग गई और उन्‍होंने इसका विरोध करने की ठान ली.

इसके बाद चाय जब शन‍िवार को फाइनल प्रेजेंटेशन देने आईवी लीग कॉलेज (Ivy League school) आई तो उन्‍होंने ऐसा विरोध किया कि आज वे पूरी दुनिया के लिए एक मिसाल बन गई हैं. उनका यह विरोध काफी वायरल हो रहा है. एक एक कर अपने सारे कपड़े उतार द‍िए और सिर्फ अंडरवियर में प्रेजेंटेशन देने के लिए खड़ी हो गईं.

इस विरोध के बाद चाय के कुछ सहपाठियों ने तो चाय का साथ द‍िया, लेकिन कुछ छात्रों के अनुसार प्रोफेसर सिर्फ प्रेजेंटेशन के दौरान प्रफेशनल रहने के लिए कह रही थी. वहीं प्रोफेसर ने भी अपने बयान में कहा कि वह छात्रों की ड्रेस पर प्रतिबंध नहीं लगाती हैं और उन्‍हें कपड़े पहनने की आजादी देती हैं.

चाय ने इस प्रदर्शन से पहले फेसबुक पोस्‍ट में लिखा था कि वह ब्‍लू जींस वाली स्‍कर्ट पहनकर प्रेजेंटेशन दे रही थीं, जब उनकी प्रोफेसर ने उन्‍हें टोका था. चाय के अनुसार उनकी प्रोफेसर ने कहा कि इस तरह की छोटी ड्रेस पहनने से प्रेजेंटेशन के दौरान मर्दों की नजर उसके शरीर पर रहेगी न कि प्रेजेंटेशन पर. चाय ने यह भी बताया कि उनकी प्रोफेसर ने बाहर आकर यह भी कहा था कि उसकी मां इस ड्रेस पर क्‍या सोचेंगी? चाय ने प्रोफेसर को जवाब दिया था कि उनकी मां एक फेमिनिस्‍ट हैं और उन्‍हें उसकी छोटी ड्रेस पहनने से कोई शिकायत नहीं है.

TOPPOPULARRECENT