Monday , December 18 2017

छोटी रियास्तें वसाइल की क़िल्लत की बिना पर मसाइल का शिकार, नाकाम तजुर्बे

अलहदा रियासत तेलंगाना को मर्कज़ी काबीना की मंज़ूरी के चंद दिन बाद समाजवादी पार्टी के सदर मुलाय‌म सिंह यादव ने आज कहा कि उनकी पार्टी रियास्तों की तक़सीम की मुख़ालिफ़ है क्योंकि छोटी रियास्तें वसाइल की क़िल्लत की वजह से मसाइल का शिकार

अलहदा रियासत तेलंगाना को मर्कज़ी काबीना की मंज़ूरी के चंद दिन बाद समाजवादी पार्टी के सदर मुलाय‌म सिंह यादव ने आज कहा कि उनकी पार्टी रियास्तों की तक़सीम की मुख़ालिफ़ है क्योंकि छोटी रियास्तें वसाइल की क़िल्लत की वजह से मसाइल का शिकार रहती हैं और एक नाकाम तजुर्बा है। वो प्रेस कान्फ्रेंस से ख़िताब कररहे थे। उन्होंने कहा कि बड़ी रियास्तों को तक़सीम करके छोटी रियास्तों का क़ियाम वसाइल की कमी की बिना पर मसाइल का शिकार रहता है।

नक्सलिज़म एक और बड़ा मसला है जो छोटी रियास्तों पर ग़ालिब रहता है। ये ग़ालिबन 3 अक्टूबर को नई रियासत की तशकील की मर्कज़ी काबीना की तरफ‌ से मंज़ूरी के बाद तेलंगाना मसले पर मुलाय‌म सिंह यादव का अव्वलीन तर्ज़-ए-अमल है। इनका ये तबसेरा राष्ट्रीय लोकल के लीडर-ओ-मर्कज़ी वज़ीर अजीत सिंह की तरफ‌ से मग़रिबी यू पी की तक़सीम के ज़रीये हरित प्रदेश के क़ियाम के मुतालिबे के बाद मंज़रे आम पर आया है।

समझा जाताहै की काबीना के हालिया इजलास में अजीत सिंह ने हरित प्रदेश का मुतालिबा किया था क्योंकि आंध्र प्रदेश की तक़सीम के ज़रीये तेलंगाना के क़ियाम का मुतालिबा मर्कज़ी काबीना ने मंज़ूर कर लिया है। बी जे पी और आर एल डी यू पी को छोटी रियास्तों में तक़सीम करने की हामी हैं जबकि समाजवादी पार्टी उसे किसी भी इक़दाम की मुख़ालिफ़ है। नवंबर 2011में मायावती की हुकूमत ने यू पी असेम्बली में एक क़रारदाद मंज़ूर की थी जिस के मुताबिक़ यू पी को तक़सीम करके बुंदेलखंड, पश्चिम प्रदेश, प्रो अंचल क़ायम जाना था।

इस सवाल पर कि किया तेलुगुदेशम पार्टी के सदर इन चंद्रा बाबू नायडू से बातचीत करेंगे जो कांग्रेस को बेनकाब करने के लिए भूक हड़ताल कर रहे हैं। उन्होंने कोई जवाब देने से गुरेज़ किया और कहा कि वो इस मसले पर बादअज़ां इज़हारे ख़्याल करेंगे। लालू प्रसाद यादव को चारा अस्क़ाम में मुजरिम क़रार दिए जाने के बारे में सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले को बेअसर बनाने के लिए आर्डीनैंस से हुकूमत की दसतबरदारी की मुख़ालिफ़त की है जिस के तहत किसी भी रुकन पार्लियामेंट या रुकन असेम्बली को नाअहल क़रार दिया जा सकता है चाहे उसकी अपील आला तर अदालत में ज़ेरे इलतिवा क्यों ना हो।

मुज़फ़्फ़रनगर में फ़िर्कावाराना फ़सादत‌ के बारे में सवालात की बौछार पर मुलाय‌म सिंह यादव ने कहा कि इस मसले पर बहुत कुछ लिखा और कहा गया है। जो कुछ होना था होचुका हालाँकि बद बख्ताना था लेकिन ये मसला बार बार उठाने का कोई मतलब नहीं है। बी जे पी के एक इल्ज़ाम पर कि तशद्दुद भड़काने में मुलव्विस होने के इल्ज़ाम के तहत सिर्फ़ अरकाने पार्लियामेंट और अरकाने असेम्बली गिरफ़्तार किए जा रहे हैं।

समाजवादी पार्टी लीडर ने कहा कि ख़ातियों से निमटने में कोई तास्सुब नहीं बरता जाएगा। जो भी ख़ाती होगा उसे सज़ाए दी जाएगी। बेनी प्रसाद वर्मा के समाजवादी पार्टी पर इल्ज़ामात के बारे में सवाल पर उन्होंने कहा कि वो गेरा हम लोगों के बारे में कुछ भी नहीं जानना चाहते। दरींअ सिंहए बी जे पी क़ाइद बाबा गोरा पाटल कर्नाटक ने आज समाजवादी पार्टी में शमूलीयत इख़तेयार करूं और उन्हें रियास्ती पार्टी का सदर मुक़र्रर कर दिया गया। मुलाय‌म सिंह ने मध्य प्रदेश, मग़रिबी बंगाल, कर्नाटक और आंध्रप्रदेश असेम्बली इंतेख़ाबात में मुक़ाबले का ऐलान भी किया।

TOPPOPULARRECENT