Wednesday , December 13 2017

जगत्याल में ओक़ाफ़ी अराज़ी पर क़बज़ा की कोष नाकाम

जगत्याल, १० जनवरी ।( सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़ ) शहर जगतियाल में मुहल्ला क़िला गड्डा क़िला से मुत्तसिल वक़्फ़ अराज़ी मुर्शिद दरगाह पर हर साल मीलाद उन्नबी(स० अ० व०.) के मौक़ा पर सबज़ पर्चम लहराए जाते हैं । गुज़श्ता रोज़ मुहल्ला के नौजवान

जगत्याल, १० जनवरी ।( सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़ ) शहर जगतियाल में मुहल्ला क़िला गड्डा क़िला से मुत्तसिल वक़्फ़ अराज़ी मुर्शिद दरगाह पर हर साल मीलाद उन्नबी(स० अ० व०.) के मौक़ा पर सबज़ पर्चम लहराए जाते हैं । गुज़श्ता रोज़ मुहल्ला के नौजवानों ने 5 फ़रवरी को मीलाद-उन्नबी के पेशे नज़र वहां पर साफ़ सफ़ाई केलिए पहुंचे । झाड़ियां वग़ैरा साफ़ सफ़ाई के दौरान नौजवानों की मूर्ती पर नज़र पड़ी जिस पर नौजवान शहर के ज़िम्मेदार हज़रात से रुजू हुए ।

साबिक़ सदर मिल्लत-ए-इस्लामीया रियाज़ उद्दीन मामा और मंसूर और सदर मस्जिद ज़हरा और साबिक़ा वाइस चेयरमैन बलदिया ख़्वाजा ख़लील उद्दीन और दीगर मुर्शिद दरगाह पहुंच गए और वहां इलाक़े पर मौजूद यस सी तबक़ा के सदर लक्ष्मण से मूर्ती के बारे में दरयाफ़त किया जिस पर लक्ष्मण ने मूर्ती बिठाने की बात को तस्लीम कर लिया क्योंकि साल में एक मर्तबा झंडे का प्रोग्राम होता है माबाक़ी दिनों ख़ाली पड़ी होती है कहते हुए बात को टालने की कोशशश कररहा था जिस पर ज़िम्मेदारों ने मूर्ती को वहां से हटा देने की तरग़ीब दी और पुलिस में भी इस की शिकायत की गई । दरीं असना नौजवानों ने मूर्ती को वहां से हटा दिया था ।

मुर्शिद वक़्फ़ अराज़ी तक़रीबन 10 गुंटा पर मुहीत थी लेकिन मुस्लमानों की अदम तवज्जो पर एससी तबक़ा से सयासी क़ाइदीन के तआवुन से दो गंटा अराज़ी अंबेडकर भवन के लिए हासिल कर ली और कुछ दीगर क़बज़ा हो गई । माबाक़ी अराज़ी पर भी एससी तबक़ा ने बुरी नज़र डालते हुए इस को क़बज़ा करने के लिए ख़ामोशी से माई सीमा मूर्ती को बिठा दिया । अगर ख़ाब-ए-ग़फ़लत में मुस्लमान यूं ही रहें तो यहां पर भी देखते ही देखते अक्सरीयती तबक़ा की जानिब से क़बज़ा होजाता और आलीशान मंदिर तामीर होजाती । इत्तिफ़ाक़ से नौजवान वहां साफ़ सफ़ाई केलिए पहुंचने तो ओक़ाफ़ी अराज़ी पर क़बज़ा का मंसूबा बेनकाब होगया ।

TOPPOPULARRECENT