जगन और साथीयों की 863 करोड़ रुपये मालियती जायदादें ज़बत

जगन और साथीयों की 863 करोड़ रुपये मालियती जायदादें ज़बत
इंसिदाद रुकमी हेरफेर के मुक़द्दमात की समाअत करनेवाली एक ख़ुसूसी अदालत ने वाई एस आर कांग्रेस के लीडर जगन मोहन रेड्डी और उनके बाज़ साथीयों की 863 करोड़ रुपये मालियती जायदादों को ज़बत करलिया।

इंसिदाद रुकमी हेरफेर के मुक़द्दमात की समाअत करनेवाली एक ख़ुसूसी अदालत ने वाई एस आर कांग्रेस के लीडर जगन मोहन रेड्डी और उनके बाज़ साथीयों की 863 करोड़ रुपये मालियती जायदादों को ज़बत करलिया।

आंध्र प्रदेश में एक इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट में मुबय्यना रिश्वत सतानी और रुकमी हेरफेर की तहक़ीक़ात के ज़िमन में ये क़दम उठाया गया है।

एनफोर्समेंट डायरेक्टरेट (ई डी) की तरफ़ से मार्च में जारी करदा एक नोटिस पर अदालत ने ये अहकाम जारी किए हैं। इस नोटिस में जगन और निम्मा गड्डा प्रसाद के ख़िलाफ़ अलाहिदा नोटिसें जारी की गई थीं और इल्ज़ाम आइद किया गया था कि हुकूमत आंध्र प्रदेश ने (जब जगन के वालिद वाई एस राज शेखर रेड्डी चीफ़ मिनिस्टर थे) वाडारीवव और निज़ामपटनम सनअती राहदारी (वानपक) में उनकी कंपनीयों की गै़रक़ानूनी तौर पर मदद की थी। सी बी आई चार्ज शीट में कहा गया हैके आराज़ीयात की फ़राहमी के लिए निम्मा गड्डा प्रसाद को 1426.17 करोड़ रुपये के गै़रक़ानूनी फ़वाइद पहोनचाए गए थे जिस के बदले में प्रसाद की तरफ़ से जगन और उनकी कंपनीयों को 854.54 करोड़ रुपये के फ़वाइद पहोनचाए गए थे।

Top Stories