Sunday , December 17 2017

जगन वीज़न रखने वाले क़ाइद, महरूसी के बावजूद हौसले बुलंद

हैदराबाद 5 मई (सियासत न्यूज़) तेलुगु देशम से मुस्ताफ़ी होने वाले डी वीरभद्रा राव ने कहा कि जगन मोहन रेड्डी के बारे में जो कुछ सुना था, मुलाक़ात के बाद सब झूटा नज़र आया।

हैदराबाद 5 मई (सियासत न्यूज़) तेलुगु देशम से मुस्ताफ़ी होने वाले डी वीरभद्रा राव ने कहा कि जगन मोहन रेड्डी के बारे में जो कुछ सुना था, मुलाक़ात के बाद सब झूटा नज़र आया।

उन्हों ने अपने फ़र्ज़ंद डी रत्नाकर के साथ आज सुबह चंचलगुड़ा पहुंच कर जगन मोहन रेड्डी से मुलाक़ात की और मुतमइन होने के बाद मीडिया से बात-चीत करते हुए कहा कि वो जब तक तेलुगु देशम में थे, सिर्फ़ एक रुख़ से वाक़िफ़ थे।

वो पार्टी पालिसी के पेशे नज़र जगन के ख़िलाफ़ तनक़ीद किया करते थे, मगर आज उन्हें ये महसूस हुआ कि जगन वीज़न रखने वाले क़ाइद हैं और ग्यारह माह की महरूसी के बावजूद उन के हौसले पस्त नहीं हुए। रियासत की तरक़्क़ी और ग़रीब अवाम की बहबूद के मुआमले में उन्हों ने अपने एजंडा से मुझे वाक़िफ़ कराया।

उन्हों ने बताया कि तेलुगु देशम से मुस्ताफ़ी होने के बाद हुक्मराँ कांग्रेस और दीगर जमातों ने उन्हें अपनी अपनी पार्टीयों में शामिल होने की दावत दी, ताहम वो कांग्रेस के सख़्त ख़िलाफ़ हैं।

उन्हों ने कहा कि जब तक वो तेलुगु देशम में रहे, पार्टी के उसूलों का एहतेराम करते रहे, ताहम पार्टी सदर चंद्र बाबू नायडू ने उन के जज़बात का एहतेराम नहीं किया।

TOPPOPULARRECENT