Wednesday , September 26 2018

जजों के प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद सरकार में हड़कंप, कानून मंत्री रविशंकर को पीएम ने किया तलब

नई दिल्ली। देश के इतिहास में पहली बार सुप्रीम कोर्ट के मौजूदा जजों ने आज मीडिया को संबोधित किया। जजों की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद सरकार में हड़कंप मच गया। इसके तुरंत बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद और राज्य मंत्री पीपी चौधरी को तलब किया।

सूत्रों के मुताबिक पीएम इस मामले को ज्यादा तूल नहीं देना चाहते हैं और इसी के चलते कानून मंत्री को बुलाकर जरूरी दिशा-निर्देश जारी कर सकते हैं। यह पहला ऐसा मौका है जब सुप्रीम कोर्ट के मौजूदा जजों ने मीडिया के सामने अपनी परेशानियों को जाहिर किया और कोर्ट प्रशासन के कामकाज पर भी सवाल उठाया।

चारों जजों ने आरपो लगाया कि कोर्ट का प्रशासन ठीक तरीके से काम नहीं कर रहा है, अगर ऐसा चलता रहा तो लोकतांत्रिक खतरे में है। जजों ने यह भी बताया कि इस संबंधी वे पहले चीफ जस्टिस को खत लिख चुके हैं जब उनकी बात नहीं सुनी गई तो आज सामने आए।

उन्होंने कहा कि हम नहीं चाहते कि हम पर कोई आरोप लगाए कि हमने अच्छे से काम नहीं किया। हम तो बस देश के प्रति अपना कर्ज अदा कर रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT