जज ने सुनवाई से किया इन्कार कहा, दूसरे कोर्ट में हो शहाबुद्दीन की सुनवाई

जज ने सुनवाई से किया इन्कार कहा, दूसरे कोर्ट में हो शहाबुद्दीन की सुनवाई
Click for full image

पटना : दो सगे भाइयों की क़त्ल में उम्रकैद की सजा पाये सीवान के साबिक एमपी मो शहाबुद्दीन की इसी मामले में गवाह रहे तीसरे भाई की क़त्ल के मामले में जमानत दरख्वास्त पर सुनवाई एक बार फिर टल गयी है।

जस्टिस हेमंत कुमार श्रीवास्तव ने बुध को इस जमानत दरख्वास्त पर सुनवाई नहीं की। उन्होंने पटना हाइकोर्ट के चीफ जस्टिस से दरख्वास्त किया कि इस केस की सुनवाई किसी दूसरे अदालत में हो, इसकी इंतेज़ाम की जाये।

शहाबुद्दीन तीसरे भाई की क़त्ल केस में भी अहम् मुलजिम हैं। उन पर जेल से ही क़त्ल की साजिश रचने का इल्ज़ाम है और उनके बेटे ओसामा पर तीसरे भाई की गोली मार कर क़त्ल करने का इलज़ाम है।

तीसरा भाई अपने दो सगे भाइयों की क़त्ल का वाहिद चश्मदीद गवाह था। 19 अप्रैल, 2014 को उसकी गवाही होनी थी, लेकिन इसके पहले 15 अप्रैल को ही गोली मार कर क़त्ल कर दी गयी। जज के सुनवाई से इनकार कर देने के बाद अब नये सिरे से जमानत दरख्वास्त पर सुनवाई होगी।

Top Stories