Monday , August 20 2018

जदीद टेक्नोलोजी के इस्तेमाल में अस्करीयत पसंदों की बालादस्ती

नई दिल्ली: दिल्ली, मुंबई और बैंगलोर पुलिस के सरबराहान का कहना है कि सोश्यल मीडिया और टेक्नोलोजी के इस्तेमाल में इंतेहा पसंदों की बालादस्ती पुलिस के लिए एक ज़बरदस्त चैलेंज बन गई है।

गुज़िश्ता 20 साल के दौरान अस्करीयत पसंदी महिदूद दायराकार में होती थी जिसे किसी हुकूमत या किसी ग्रुप की सरपरस्ती हासिल रहती थी जिसका ब-आसानी पता चलाया जा सकता था लेकिन अब सोश्यल मीडिया के इन्क़िलाब से सूरत-ए-हाल तबदील हो गई है।

दिल्ली के पुलिस कमिशनर मिस्टर बी ऐस बसी ने बताया कि अस्करीयत पसंद अनासिर अपनी सरगर्मीयों के लिए वेबसाइट और सोश्यल नेटवर्क को आलाकार बना रहे हैं जिसके ज़रिए टेलीफ़ोन मुज़ाकरात और मुरासलत की जाती है लेकिन मुश्तबा सरगर्मीयों का पता चलाना मुश्किल और पेचीदा बन गया है। इन्होंने बताया कि अगर एक तरफ़ टेक्नोलोजी अस्करीयत पसंदों के लिए इआनत कर रही है तो दूसरी तरफ़ सिक्योरिटी इदारों के लिए भी मददगार साबित हो रही है।

TOPPOPULARRECENT