Wednesday , July 18 2018

जनतादल एस , कांग्रेस को एपी , तेलंगाना , केरला और त‌मिलनाडू नेताओं का समर्थन‌

हैदराबाद: कर्नाटक में जनता दल (एस) और कांग्रेस विधायकों का समर्थन करते हुए दक्षिण भारतीय राज्यों के चीफ मिनिस्ट‌रों और विपक्ष नेताओं ने यह पेशकश की कि वह जनता दल (एस) और कांग्रेस सदस्यों को अपने क्षेत्र में शरण देंगे मुख्यमंत्री आंध्र प्रदेश चंद्रबाबू नायडू और तेलंगाना के चीफ़ मिनिस्टर के चन्द्रशेखर राव ने जद विधायकों को शरण देने की पेशकश की और केरल ने कांग्रेस विधायकों अपनी राज्य में सुरक्षा से रखने हामी भरी।

टीएन स्टेनली के विपक्षी नेता एम। स्टालिन ने गवर्नर कर्नाटक की आलोचना की। भाजपा नेता बीएस येदी यूरोपा मुख्यमंत्री कर्नाटक के रूप में शपथ ली गई है। कांग्रेस और जद (एस) ने संयुक्त रूप से सुप्रीम कोर्ट का उल्लेख होकर कहा कि उनके पास सरकार बनाने के लिए विधायकों की अपेक्षित संख्या मौजूद है।सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई लंबित है।

बीजेपी के 104 सदस्यों की असेंबली में, 112 से अधिक स्थिति में साधारण बहुमत लेने के लिए 8 से अधिक सदस्यों की आवश्यकता है। उसी यूरोपीय संघ की बीजेपी अब कांग्रेस और जनता दल (एस) के सदस्यों को अपनी बहुमत साबित करने की स्थिति में लाने की कोशिश करेगी।

इस तरह कांग्रेस और जनता दल के सदस्यों की रक्षा करना महत्वपूर्ण है। गौरतलब है कि राष्ट्रपति तेलुगु देशम पार्टी चंद्रबाबू नायडू और कर्नाटक में तेलुगु मतदाताओं से कहा था कि वह भाजपा को हारा देंगे। उनके उपमुख्यमंत्री कर्नाटक के तेलुगूलोगों के बीच अभियान के लिए वहां पहुंचे। तेलंगाना के मुख्यमंत्री शाखार राव ने एचडी देवेगौड़ा का समर्थन किया।

TOPPOPULARRECENT