Thursday , September 20 2018

जब्बार ट्रैवेल्स के मालिक और ड्राईवर गिरफ़्तार

महबूबनगर में कल हुए ख़ानगी लग्झरी बस हादसे के लिए जब्बार ट्रेवल्स के मालिक और ड्राईवर को पुलिस ने आज गिरफ़्तार करलिया।

महबूबनगर में कल हुए ख़ानगी लग्झरी बस हादसे के लिए जब्बार ट्रेवल्स के मालिक और ड्राईवर को पुलिस ने आज गिरफ़्तार करलिया।

वनपरती के डी एस पी श्रीनिवास रेड्डी ने बताया कि जब्बार श्रीनिवास के मालिक शकील जब्बार और ड्राईवर फ़िरोज़ को महबूबनगर में कोता कोटा से गिरफ़्तार किया गया।

मालिक और ड्राईवर के ख़िलाफ़ ताअज़ीरात-ए-हिंद की मुख़्तलिफ़ दफ़आत और मोटर व्हीकल्स एक्ट के तहत मुक़द्दमा दर्ज किया गया है।

डी एस पी का कहना है के ट्रेवल्स के मालिक बस में दूसरे ड्राईवर का तक़र्रुर करने में नाकाम रहे। इस के अलावा बस में ज़ाइद मुसाफ़िरों को सवार करने की इजाज़त दी।

मुसाफ़िरिन की सही फ़हरिस्त तैयार करने में नाकाम रहे। इस के अलावा लामहदूद साज़-ओ-सामान रखने की भी इजाज़त दी गई। इबतिदाई तहक़ीक़ात से पता चलता है कि ड्राईवर फ़िरोज़ ने बस के शोला पोश होते ही छलांग लगादी थी।

मुसाफ़िरों को उन के हाल पर छोड़कर ड्राईवर अपनी जान बचाने के लिए बस से छलांग लगादी जबकि बस का हेलपर फ़य्याज़ ने आग के शोला देखने के बाद शोर मचाते हुए चंद मुसाफ़िरिन को बचाने की कोशिश की और वो ख़ुद भी इस में झुलस गया।

इसी दौरान इस हादसे में हलाक होने वाले मुसाफ़िरिन की शनाख़्त डी एन ए टेसट के ज़रीये की जा रही है इस के लिए तक़रीबन 8 दिन दरकार होंगे।

ओहदेदारों के हवाले से वज़ीर-ए‍इततेलात-ओ-ताअलुकात-ए-आमा डी के अरूना ने कहा कि डी एन ए टेसट का काम पूरा होने के लिए कुछ वक़्त लगेगा।

रियासती फॉरेंसिक लेबोरेटरी ने तमाम महलूक अफ़राद के रिश्तेदारों से ख़ून के मुआइने हासिल किए हैं। एक शेर ख़ार लड़की और 45 मुसाफ़िरिन ज़िंदा जल कर हलाक होगए थे दुसरे 7 मुसाफ़िर ज़ख़मी हैं।

TOPPOPULARRECENT