Tuesday , December 12 2017

जब चिदम़्बरम टी वी रिपोर्टर बन गए

नई दिल्ली 9 मई : कर्नाटक में बी जे पी की हार‌ ने वज़ीर मालियात पी चिदम़्बरम को एक टी वी रिपोर्टर में तबदील कर दिया।

नई दिल्ली 9 मई : कर्नाटक में बी जे पी की हार‌ ने वज़ीर मालियात पी चिदम़्बरम को एक टी वी रिपोर्टर में तबदील कर दिया।

कांग्रेस के सीनयर लीडर‌ ने एक टी वी रिपोर्टर के हाथ से माईक लेकर बी जे पी के सीनयर लीडर‌ जसवंत के सामने उस वक़्त रख दिया जब वो पार्लियामेंट से बाहर आरहे थे। माईक उनके सामने रखते ही चिदम़्बरम ने उनसे सवाल पूछा कि क्या कांग्रेस को कामयाबी की मुबारकबाद नहीं देंगे?

क़िस्सा दरअसल ये है कि टी वी रिपोर्टस ने जब कर्नाटक इंतिख़ाबात के नताइज के बारे में उनसे सवाल किया तो बिलकुल उसी वक़्त उन्होंने जसवंत सिंह को पार्लियामेंट से बाहर आते देख लिया। ये देखते ही उन्होंने टी वी रिपोर्टर के हाथों से माईक ले लिया और जसवंत सिंह के सामने रख दिया जो चिदम़्बरम से पहले वज़ीर मालियात के ओहदा पर रहे थे और इसके बाद‌ 2004 में मर्कज़ में कांग्रेस आई थी।

टी वी रिपोर्टस को माईक वापिस करते हुए उन्होंने जसवंत सिंह के बारे में कहा कि मौसूफ़ एक जैंटलमेन हैं इसके बाद‌ उन्होंने कहा कि अव्वाम से बड़ा देखने वाला और कोई नहीं होता। ये तमाम सयासी पार्टीयों के लिए एक पैग़ाम है। मर्कज़ में जो भी पार्टी हुकूमत बनाए उसका काम है कि अपनी ज़िम्मेदारियों को पूरा करना और अपने इंतिख़ाबी मंशूर पर अमल करना।

नाकारा हुकूमतों को अव्वाम हटा देते हैं। यहां इस बात का तज़किरा दिलचस्पी से ख़ाली ना होगा कि चिदम़्बरम से ये सवाल पूछा गया था कि क्या कर्नाटक एसेंबली इंतिख़ाब के नताइज मर्कज़ की यू पी ए हुकूमत के लिए वाज़ह पैग़ाम नहीं है कि किस तरह बद उनवान बी जे पी हुकूमत का अव्वाम ने सफ़ाया कर दिया।

क्या यही हाल बद उनवान यू पी ए हुकूमत का नहीं होसकता? चिदम़्बरम ने इत्तिफ़ाक़ करते हुए जसवंत सिंह ने कहा कि अव्वाम गवर्नैंस के लिए आप को वोट देते हैं और आप गवर्नैंस फ़राहम नहीं कर सकते तो अव्वाम आप को हटा देते हैं। सीधी सी बात है!

TOPPOPULARRECENT