जम्मू और कश्मीर में क्रिसमस का जश्न, श्रीनगर के ऐतिहासिक चर्च में 50 साल बाद घंटी बजाई गई

जम्मू और कश्मीर में क्रिसमस का जश्न, श्रीनगर के ऐतिहासिक चर्च में 50 साल बाद घंटी बजाई गई
Click for full image
सांकेतिक

श्रीनगर: पूरी दुनिया की तरह जम्मू-कश्मीर के ईसाई समुदाय ने भी सोमवार को क्रिसमस का त्यौहार महोत्सव चरम उत्साह और धार्मिक परम्परा से मनाया। वादी में हड्डीयों को मनजमनद कर देने वाली सर्दी के बाजोद मसीहीयों की एक बड़ी तादाद ने रात-भर जारी रहने वाली समारोह में भाग लिया।

इस दौरान श्रीनगर के मौलाना आजाद रोड़ पर स्थित ऐतिहासिक ‘होली फैमिली कैथोलिक चर्च’ में क्रिसमस की पूर्व संध्या पर 50 साल बाद घंटी बजाई गई। गिरिजा-घरों में घंटी बजाकर ईसाई मज़हब के उपासक द्वारा पूजा के लिए बुलाया जाता है।

इस गिरजा घर में स्थापित घंटी सन 1967 में तीसरी अरब इसराईल जंग के दौरान चर्च में पेश आने वाली आग की एक पर रहस्यमय घटना के दौरान ख़राब हो गई थी। मसीही बिरादरी क्रिसमस का त्यौहार हज़रत-ए-ईसा अलैहिस-सलाम के जन्मदिन के सिलसिले में हर साल 25 दिसंबर को मनाती है।

Top Stories