Sunday , December 17 2017

जम्मू-कश्मीर- आतंकी बने नौजवानों को पुलिस जिंदा पकड़ने की कोशिश करें- महबूबा मुफ्ती

श्रीनगर। कश्मीर घाटी में पिछले तीन महीने से जारी हिंसाचक्र और राष्ट्रविरोधी प्रदर्शनों से पैदा हुए हालात के बीच शुक्रवार को मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने युवकों के साथ-साथ पाकिस्तान से भी वादी में हालात सामान्य बनाने में मदद का आग्रह किया। उन्होंने पैलेट गन पर रोक और अफस्पा हटाने की अपनी संकल्पबद्घता दोहराते हुए कहा कि यह आतंकवाद व हिंसा का दौर समाप्त होने पर ही संभव है।

महबूबा ने पुलिस से आग्रह किया कि वह आतंकी बने युवकों को जिंदा पकड़ने का प्रयास करें ताकि हम उन्हें बंदूक के स्थान पर कलम और बैट थमा सकें। महबूबा जेवन में पुलिस कमोमोरेशन डे परेड-2016 के सिलसिले में आयोजित समारोह में शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्घांजलि अर्पित करने और परेड की सलामी लेने के बाद जनसमुदाय को संबोधित कर रही थीं।

महबूबा ने आतंकी बने युवकों को जिंदा पकड़ने पर जोर देते हुए कहा कि कई बच्चे घरों से लापता हैं। उनमें से कई आतंकी भी बने होंगे। मेरी पुलिस से गुजारिश है कि वह उन्हें वापस लाए। मुठभेड़ में मार गिराने के बजाय उन्हें जिंदा पकड़ा जाए और वापस लाएं ताकि वह मुख्यधारा में शामिल हो सकें। हम उनके हाथों में बंदूकों के बजाय कलम, बैट और बॉल देना चाहते हैं।

TOPPOPULARRECENT