जम्मू-कश्मीर: दस दिन पहले आतंकी संगठन में हुआ शामिल, परिवार के दबाव में किया सरेंडर

जम्मू-कश्मीर: दस दिन पहले आतंकी संगठन में हुआ शामिल, परिवार के दबाव में किया सरेंडर
Click for full image

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर में फुटबॉलर से आतंकी बने माजिद खान ने सरेंडर कर दिया है। सूत्रों के मुताबिक 22 साल के फुटबॉलर माजिद खान ने परिवार और रिश्तेदारों के दबाव में सरेंडर करने का फैसला किया है।

माजिद ने 10-12 दिन पहले ही आतंकी संगठन लश्कर को ज्वाइन किया था। जब माजिद की मां और उसके रिश्तेदार को ये खबर मिली तो वो उससे बार-बार घर वापस लौटने की गुहार लगा रहे थे। सूत्रों के मुताबिक मां की अपील के बाद माजिद खान ने सरेंडर कर दिया है।

गौरतलब है कि माजिद इरशाद जो कल तक जिले में उभरता हुआ फुटबॉल खिलाड़ी माना जाता था, जो समाज सेवा में सबसे आगे रहता था वो अनंतनाग और साथ सटे इलाकों में लश्कर का स्थानीय पोस्टर ब्वाय बन चुका था।

जब से वह आतंकी बना, पूरे घर में मातम पसरा हुआ था। पिता इरशाद अहमद खान को जब पता चला कि बेटा आतंकी बन गया है, दिल का दौरा पड़ गया। बस मिलने वालों से कहते थे कि क्या चाहिए, मैं वह सब दूंगा,बस माजिद को कहो घर लौट आओ।

उसकी बड़ी बहन ने कहा कि मेरा भाई पढ़ाई में बड़ा जहीन था। वह पिछले गुरुवार को शाम को जब घर नहीं आया था तो पापा ने फोन किया। उसका फोन स्विच ऑफ था। कुछ ही देर में किसी ने बताया कि माजिद आतंकी बन गया है। उसकी बंदूक के साथ फोटो व्हाट्सएप पर आई है।

आयशा ने कहा कि उसने तो हमें जीते जी मार दिया। उसे बताओ उसका पापा बीमार हैं। माजिद के घर में मौजूद एक रिश्तेदार ने कहा कि माजिद सुबह घर से निकला था।

Top Stories