Thursday , January 18 2018

जम्मू-कश्मीर में आ सकता है तबाहकुन भूकंप, जा सकती है लाखों जानें : अमेरिकी साइंसदां

जम्मू : राज्य जम्मू-कश्मीर में लाखों लोगों की जान खतरे में है. रियासत के हिमालय पर्वतों की हालिया भौगोलिक मैपिंग में कहा गया है कि यहां आठ या इससे भी ज्यादा तीव्रता का भूकंप आ सकता है.

वैज्ञानिकों के मुताबिक रियासी फॉल्ट ने कुछ वक्त से दबाव बनाना शुरू कर दिया है. इससे यह इशारा मिल रहा है कि जब वह इस दबाव को छोड़ता है तो उसके बाग आने वाला भूकंप तबाहकुन हो सकता है, जिसकी तीव्रता आठ या इससे ऊपर हो सकती है.

अमेरिका के ओरेगन स्टेट विश्वविद्यालय में रिसर्चर रह चुके इस रिसर्च के अहम लेखक यान गेविलट ने कहा, ‘हमने यह जानने की कोशिश की कि फॉल्ट गुजिश्ता दस हजार साल में कितना हटा है. इसके हटने पर इसके मुखतलिफ हिस्से किस तरह हिले हैं? उन्होंने कहा, हमने पाया कि रियासी फॉल्ट कश्मीर में पड़ने वाले मुख्य सक्रिय फॉल्ट्स में से एक है लेकिन हालिया भौगोलिक रिकॉर्ड के मुताबिक, भूकंप नहीं आए हैं.’

गेविलट ने कहा, यह फॉल्ट लंबे वक्त से अपने स्थान से सरका नहीं है, जिसका मतलब यह है कि एक तबाहकुन भूकंप आने की इमकान है. सवाल यह नहीं है कि क्या यह आ रहा है? यहां सवाल यह है कि यह कब आ रहा है. इस फॉल्ट पर कुछ भूकंपीय सरगर्मीयां होने के भी सुबूत मिले हैं. शोधकर्ताओं ने पाया कि एक भूकंप ने फॉल्ट के एक हिस्से को पांच मीटर या उससे कुछ ज्यादा तक ऊपर उठा दिया था. मुमकीना यह 4000 साल पहले हुआ था.

शोधकर्ताओं ने कहा कि मठों में लिखित रिकॉर्ड कुछ हजार साल पहले तीव्र भूकंप का जिक्र करते हैं. हालांकि उनमें इस बात के ज्यादा सुबूत नहीं हैं कि फॉल्ट पर कितनी जल्दी-जल्दी भूकंप आते थे या कब यह दोबारा आ सकता है.

TOPPOPULARRECENT