Tuesday , December 12 2017

जयललिता ने मोदी से बढाई करीबी !

एग्जिट पोल में एनडीए को अक्सरियत की खबर के बाद सियासी हलचल तेज हो गई है। नवीन पटनायक के इशारे के बाद एआईएडीएमके से भी ताईद मिलने की उम्मीद की जा रही है।

एग्जिट पोल में एनडीए को अक्सरियत की खबर के बाद सियासी हलचल तेज हो गई है। नवीन पटनायक के इशारे के बाद एआईएडीएमके से भी ताईद मिलने की उम्मीद की जा रही है।

एआईएडीएमके के तरजुमान के मलई स्वामी के बयान के मुताबिक , नरेंद्र मोदी और जयललिता दोनों बहुत ही अच्छे दोस्त हैं। दोनों में भले ही सियासी इख्तेलाफ हों, लेकिन दोनों अच्छे दोस्त हैं और जयललिता के लिए तमिलनाडु के हित सबसे ऊपर हैं।

अगर मोदी मुल्क के पीएम बनते हैं तो ऐसे में जयललिता चाहेंगी कि मरकज़ी हुकूमत के साथ तमिलनाडु सरकार के रिश्ते बेहतर हों और अगर बीजेपी इस बात को मान लेती है तो हमें भी बीजेपी मंजूर है। कांग्रेस का तो कोई सवाल नहीं है।

जयललिता कांग्रेस को पसंद नहीं करती हैं तो नतीजों के बाद मोदी को लेकर फैसला लिया जा सकता है। वहीं मंगल के रोज़ एनसीपी के लीडर प्रफुल्ल पटेल ने कहा था कि वह यूपीए का हिस्सा हैं, इसके बाद भी मुल्क के मुफाद में म्रकज़ में मुस्तकिल हुकूमत का साथ देंगे। इस बीच एनसीपी के लीडर तारिक अनवर ने एनडीए के ताइद की खबरों को गलत बताया है।

TOPPOPULARRECENT