Saturday , December 16 2017

जराइम से पाक मुआशरह की तामीर के लिए पुलिस और अवाम में साझेदारी की ज़रूरत

हैदराबाद सिटी पुलिस कमिशनर एम महेंद्र रेड्डी ने कहा कि महिकमा पुलिस ने हैदराबाद को एक महफ़ूज़ और स्मार्ट शहर बनाने में कोई कसर बाक़ी नहीं रखा है।

हैदराबाद सिटी पुलिस कमिशनर एम महेंद्र रेड्डी ने कहा कि महिकमा पुलिस ने हैदराबाद को एक महफ़ूज़ और स्मार्ट शहर बनाने में कोई कसर बाक़ी नहीं रखा है।

उन्होंने एक महफ़ूज़-ओ-मुस्तहकम समाज की तामीर के लिए पुलिस और अवाम के माबैन ख़ुशगवार ताल्लुक़ात और बेहतरीन रिफ़ाक़त की ज़रूरत पर ज़ोर दिया।

यौम शहीदाँ पुलिस के ज़िमन में हैदराबाद सिटी पुलिस की तरफ़ से सिकंदराबाद परेड ग्रांऊड पर मुनाक़िदा ओपन हाउज़ सेशन से ख़िताब के दौरान हैदराबाद पुलिस के सरबराह ने अमन-ओ-क़ानून से मुताल्लिक़ किसी भी हंगामी सूरते हाल से निमटने और मुश्किल हालात में अवाम की मदद के लिए हाल ही में मुतआरिफ़ की गई मुज़ाहमती गाड़ीयों और ख़ुसूसी पैट्रोलिंग का तज़किरा किया।

उन्होंने कहा कि पुलिस की इन कोशिशों से अमन-ओ-क़ानून की सूरते हाल में बेहतरी शहर को जराइम से पाक बनाते हुए अवाम को महफ़ूज़ हालात-ए-ज़िंदगी फ़राहम करने में मदद हासिल हुई है।

कमिशनर महेंद्र रेड्डी ने इस प्रोग्राम के दौरान स्कूली बच्चों से बातचीत करते हुए पुलिस के फ़राइज़ और 21 अक्टूबर को मनाए जाने वाले यौम शहीदाँ पुलिस की एहमीयत का तज़किरा किया। यहां ये बात काबिल-ए-ज़िकर हैके 21अक्टूबर 1999 को जम्मू-ओ-कश्मीर के इलाक़ा लद्दाख में सब इन्सपेक्टर करन सिंह की ज़ेर-ए-क़ियादत सी आर पी एफ़ पेट्रोल पार्टी पर चीनी फ़ौज ने घात लगाकर हमला कर दिया था जिस में सी आर पी एफ़ के 10 जवान शहीद होगए थे ताहम 16000 फ़ुट बुलंदी पर वाक़िये इस मुक़ाम पर इंतिहाई सर्द मौसमी हालात और नासाज़गार हालात के बावजूद हिंदुस्तानी जवानों ने जिस जज़बा क़ुर्बानी जुरात-ओ-बहादुरी का मुज़ाहरा किया था उसकी मिसाल शाज़-ओ-नादिर ही मिल सकती है। हैदराबाद हैड क्वाटर्रज़ के जवाइंट कमिशनर एम शेवा प्रसाद आई पी एस ने सदारत की। महेंद्र रेड्डी ने प्रोग्राम का इफ़्तेताह किया।

TOPPOPULARRECENT