जर्मनी और ऑस्ट्रिया काबिले तहसीन हैं – अक़वामे मुत्तहिदा

जर्मनी और ऑस्ट्रिया काबिले तहसीन हैं – अक़वामे मुत्तहिदा
Click for full image

अक़वामे मुत्तहिदा के इदारा बराए पनाह गुज़ीन “यू एन एच सी आर” ने हज़ारों पनाह गुज़ीनों और तारकीने वतन की मेज़बानी करने के फ़ैसले पर जर्मनी और ऑस्ट्रिया को सराहते हुए कहा है कि ये फ़ैसला “इन्सानी इक़दार पर मबनी सियासी क़ियादत” का फ़ैसला है।

मशरिक़े वुस्ता और अफ़्रीक़ी मुल्कों से हज़ारों अफ़राद पुर ख़तर ज़राए से सफ़र कर के हंगरी पहुंचे थे जहां कही दिनों तक फंसे रहने के बाद जुमा को उन्होंने ऑस्ट्रिया और जर्मनी की तरफ़ रुख किया जिन्हों ने उन लोगों के लिए अपनी सरहदें खोलने का ऐलान किया था।

यू एन एच सी आर ने एक बयान में ऑस्ट्रिया और जर्मनी की सिवल सोसाइटी की तरफ़ से पनाह गुज़ीनों को ख़ुश आमदीद कहने को काबिले तारीफ़ क़रार देते हुए मुतनब्बे किया कि सिर्फ चंद मुल्कों की तरफ़ से उन अफ़राद की मेज़बानी का फ़ैसला ही काफ़ी नहीं।

Top Stories