जर्मनी ने कहा- ‘मुसलमानों और आतंकवादियों के मध्य अंतर किया जाना चाहिये’

जर्मनी ने कहा- ‘मुसलमानों और आतंकवादियों के मध्य अंतर किया जाना चाहिये’

गत शुक्रवार को एक नस्लभेदी इस्लाम विरोधी ने न्यूज़ीलैंड में मुसलमानों की दो मस्जिदों पर नमाज़ियों पर अंधाधुंध गोलियां चलाई थी जिसमें 52 नमाज़ी मारे गये थे

पार्स टुडे डॉट कॉम के अनुसार, जर्मनी के संसद सभापति ने न्यूज़ीलैंड और हॉलैन्ड में होने वाले आतंकवादी हमलों की प्रतिक्रिया में मुसलमानों और आतंकवादियों में अंतर करने की मांग की है।

वॉल्फगैन्ड शबल ने न्यूज़ीलैंड और हालैंड में होने वाले आतंकवादी हमले के बाद सबका आह्वान किया है कि मुसलमानों और आतंकवादियों के मध्य अंतर किया जाना चाहिये।

जर्मन समाचार एजेन्सी की रिपोर्ट के अनुसार शबल ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि यद्यपि न्यूज़ीलैंड के क्राइस्टचर्च नगर में होने वाला हमला मुसलमानों के खिलाफ था परंतु वास्तव में यह हमला अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता और मानवता के खिलाफ था।

उन्होंने कहा कि न्यूज़ीलैंड के आक्रमणकारी ने न केवल मुसलमानों बल्कि उन समस्त मूल्यों को निशाना बनाया है जो हमारे लिए महत्वपूर्ण हैं और ये वे मूल्य हैं जिनकी पूरी दृढ़ता के साथ हमें रक्षा करनी चाहिये।

ज्ञात रहे कि गत शुक्रवार को एक नस्लभेदी इस्लाम विरोधी ने न्यूज़ीलैंड में मुसलमानों की दो मस्जिदों पर नमाज़ियों पर अंधाधुंध गोलियां चलाई थी जिसमें 52 नमाज़ी मारे गये थे जबकि दसियों घायल हो गये थे। गत सोमवार को हालैंड में भी एक आक्रमणकारी ने हमला करके कम से कम 3 व्यक्तियों को हताहत और 5 को घायल कर दिया था।

Top Stories