Monday , November 20 2017
Home / International / जर्मनी ने बर्लिन में अपनी पहली उदार मस्जिद खोलने की तैयारी की

जर्मनी ने बर्लिन में अपनी पहली उदार मस्जिद खोलने की तैयारी की

सेरान एटेस, इब्न-रशद-गोएथे-मस्जिद की संस्थापक, स्रोत : द हिन्दू

एक उदार मस्जिद का सेरान एट्स का ख्वाब, जहां सभी मुसलमान, महिलाये, पुरुष, सुन्नी और शिया, स्ट्रैट और समलैंगिक एक साथ प्रार्थना कर सकें लगभग एक वास्तविकता बन गया है। जर्मनी में तुर्की अतिथि श्रमिकों की 54 वर्षीय बेटी,सेरान एट्स, एक रौशनी से भरे कमरे में प्रवेश करते हुए बहुत खुश दिख रही है ।

“इससे बड़ा कोई जश्न नहीं हो सकता , मेरा सपना सच हो गया है,” एट्स ने मुस्कुराहट के साथ सफेद कालीन को छूटे हुए कहा जिसे 3 तीन तुर्की श्रमिक कमरे में बिछा रहे थे।

एट्स, एक प्रसिद्ध महिला अधिकार कार्यकर्ता और वकील हैं, जिन्होंने आठ साल जर्मनी में प्रगतिशील मुसलमानों के लिए प्रार्थना गृह स्थापित करने के लिए संघर्ष किया, जहाँ वे अपने धार्मिक मतभेदों को पीछे छोड़ एक दूसरे के साथ साझा इस्लामिक मूल्यों पर ध्यान केंद्रित कर सकते हैं।

शुक्रवार को खुलने वाली मस्जिद, जर्मनी में उदार मुसलमानों के लिए अपनी तरह की पहली मस्जिद होगी,एट्स ने कहा।

“यह परियोजना लंबे समय से तय थी,” उन्होंने इस हफ्ते एसोसिएटेड प्रेस के साथ एक साक्षात्कार के दौरान कहा। “बहुत इस्लामी आतंक है और मेरे धर्म के नाम पर इतनी बुराई हो रही है … यह महत्वपूर्ण है कि हम, आधुनिक और उदार मुसलमान सार्वजनिक रूप से हमारे चेहरे सामने लाये।”

मध्ययुगीन अंडालुसियन दार्शनिक इब्न रशद और जर्मन लेखक जोहान वोल्फगैंग गोएथे के नामों के संयोजन से बनी इस मस्जिद का नाम इब्न-रशद-गोएथे-मस्जिद है। यह मोबित के आप्रवासी पड़ोस में एक व्यस्त सड़क पर स्थित है , जहाँ ज़्यादातर भारतीय और वियतनामी रेस्तरां और मध्य पूर्वी कैफे पाए जाते हैं।

एक मीनार या म्यूज़ीन की आवाज़ की खोज करने वाले व्यर्थ में अपना समय बर्बाद करेंगे। मस्जिद पुराने लेथुरन चर्च के तीसरे मंजिल पर एक बड़ा कमरा है।

एट्स ने कहा, “आरंभ करने के लिए, हमने एक साल के लिए इस कमरे को किराए पर लिया है। नई मस्जिद उदारवाद की एक ऐसी जगह होगी जहां हर किसी का स्वागत है और हर कोई एक दूसरे के बराबर है। यहाँ महिलाओं को सिर का दुप्पटा पहनने की ज़रूरत नहीं है, वे इमामों के रूप में प्रचार कर सकती हैं और पुरुषों के समान प्रार्थना भी कर सकती हैं।”

TOPPOPULARRECENT